होम करियर

12वीं के बाद क्या करें, जानिए पूरी जानकारी विस्तार से

ज़्यादातर माता-पिता यही कहते है कि स्कूल खत्म कर लो और फिर आराम, लेकिन यह कोई नहीं बताता कि आगे भविष्य में करियर का फैसला लेने का समय यही होता है। आप भी बाकी बच्चों की तरह सोच में होंगे कि 12वीं के बाद क्या करें? स्कूल तो पास कर लिया अब आगे ज़िंदगी में क्या करें? कौनसी फील्ड को चुने ताकि उसमें एक शानदार करियर बनाकर अपनी ज़िंदगी को सफल बना सकें। ये सवाल सब के मन में होता है लेकिन सही जवाब की तलाश में सब रह जाते है। इस आर्टिकल में आपको इसी सवाल का जवाब मिलेगा, तो पढ़ते रहिए जोश कोश

इस आर्टिकल में 12वीं के बाद क्या कर सकते है उसके बारे में पूरी जानकारी मिलेगी

12वीं के बाद कौनसा कोर्स करें

12वीं के बाद पॉलिटैक्निक कोर्स

12वीं के बाद आईटीआई कोर्स

12वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स

12वीं के बाद डिस्टेन्स एज्यूकेशन

12वीं के बाद सरकारी नौकरी

12वीं के बाद प्राइवेट जॉब्स

12वीं के बाद अपना बिजनेस शुरू करें


12वीं के बाद कौनसे कोर्स करें

12वीं पास करने के बाद अगर आप आगे पढाई करना चाहते है तो आपको उसके लिए ग्रेजुएशन डिग्री करनी होगी। ग्रेजुएशन में आप अपने रुचि के अनुसार और क्वालिफिकेशन के हिसाब से अपनी पसंद का कोर्स और कॉलेज चुन सकते है। जब ग्रेजुएशन की बात आती है तो लोग सरकारी कॉलेज से ग्रेजुएशन करना पसंद करते है। लेकिन अब प्राइवेट कॉलेज भी बहुत खुल गए जहां अच्छी पढाई होती है। कोर्स को मुख्यतः 3 स्ट्रीम/फील्ड में बताया गया है:

  1. आर्ट्स
  2. कॉमर्स
  3. विज्ञान

अब एक-एक हर स्ट्रीम के अलग-अलग कोर्स और उन कोर्स को करने के बाद क्या करियर विकल्प बन सकते है उसके बारे में जानेंगे।

12वीं आर्ट्स के बाद क्या करें ?

आर्ट्स स्ट्रीम में सबसे ज्यादा विकल्प होते है विशेषज्ञता के लिए। आर्ट्स फील्ड को परिभाषित करना बहुत मुश्किल है क्यूंकि इसमें अलग-अलग प्रोफेशन होते है जो एक दूसरे से एकदम अलग होते है, लेकिन इस फील्ड में ही सबसे ज्यादा करियर के लिए विकल्प होते है।

कोर्स का प्रकार: अंडरग्रेज्युएट

कोर्स की अवधि: 3 साल

1. बी.ए. का फुल फॉर्म होता है बैचलर ऑफ़ आर्ट्स। बी.ए. कोर्स अलग-अलग स्पेशलाइजेशन में किया जा सकता है, जैसे की:

  • बीए मनोविज्ञान
  • बीए इतिहास
  • बीए पुरातत्व
  • बीए अर्थशास्त्र
  • बीए पत्रकारिता
  • बीए अंग्रेजी
  • बीए हिंदी
  • अन्य भाषाओं में बीए (राज्यवार) / विदेशी भाषाएं, जैसे बीए फ्रेंच
  • बीए समाजशास्त्र
  • बीए राजनीति
  • बीए भूगोल
  • बीए भारतीय संस्कृति
  • बीए सामाजिक कार्य आदि।

करियर के विकल्प:

  • शिक्षा क्षेत्र (शिक्षक / प्रोफेसर)
  • मीडिया (पत्रकारिता)
  • एनजीओ (सामाजिक कार्यकर्ता)
  • मीडिया (कॉपी राइटर)
  • राजनीति
  • दूतावास (अनुवादक)
  • अस्पताल / गैर सरकारी संगठन (मनोवैज्ञानिक)

2. बी.एच.एम. – बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

3. बी.जे.एम.सी. – बैचलर ऑफ जर्नलिज़्म एंड कम्यूनिकेशन

करियर के विकल्प:

  • कॉपी राइटर
  • पत्रकारिता
  • न्यूज ऐंकर
  • फिल्म संपादक
  • मीडिया प्लानर
  • जनसंपर्क कार्यकारी
  • प्रकाशन कार्यकारी
  • विज्युलाइजर

4. डी.ईएल.ईडी. – डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एज्यूकेशन

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

5. बी.एफ़.ए. – बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स

करियर के विकल्प:

  • आर्ट टीचर
  • लेखक
  • फाइन आर्टिस्ट
  • शिल्प कलाकार
  • मल्टीमीडिया कलाकार
  • कला निर्देशक
  • अभिनेता

6. बी. एसडबल्यू – बैचलर ऑफ सोशल वर्क

7. एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया कोर्स

करियर विकल्प:

  • इलुस्ट्रेटर
  • इमेज मैनिपुलेटर
  • ग्राफिक डिजाइनर
  • छायाकार
  • फोटोग्राफर
  • 3डी एनिमेटर
  • 2डी एनिमेटर
  • विडियो एडिटर
  • गेम डिजाइनर
  • 2डी एनिमेटर
  • 3डी एनीमेटर
  • एनिमेटर
  • छायाकार
  • ग्राफिक डिजाइनर
  • फोटो एडिटर

8. एविएशन कोर्स

  • ग्राउंड स्टाफ जॉब्स
  • एयर होस्टेस/फ्लाइट एटेंडेंट

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

कोर्स की अवधि: 3-4 साल

9. बी.टी.टी.एम. – बैचलर ऑफ ट्रेवल एंड टूरिज़म मैनेजमेंट

10. बी.ई.एम. – बैचलर ऑफ इवेंट मैनेजमेंट

11. बी.एफ़.डी. – बैचलर ऑफ फैशन डिजाइनिंग
अगर आपको फैशन इंडस्ट्री में रुचि है तो आप इस कोर्स को कर सकते है।

  • फैशन डिजाइनर
  • फैशन पत्रकारिता और प्रकाशन
  • फैशन मार्केटिंग और पीआर
  • फैशन मर्चेंडाइजिंग और फैशन बाइंग
  • फैशन उत्पादन और प्रबंधन
  • फैशन स्टाइलिस्ट
  • फिल्में
  • फ्रीलांसर
  • पत्रिका
  • टीवी चैनल
  • फैशन कंसल्टेंट्स

12. बी.ईएल.ईडी. – बैचलर ऑफ एलीमेंट्री एज्यूकेशन
अगर आप प्राइमरी टीचर बनना चाहते है तो यह कोर्स कर सकते है। यह कोर्स टीचिंग में करियर बनाने वालों के लिए बहुत अच्छा माना जाता है।

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

कोर्स की अवधि: 5 साल

13. इंटीग्रेटेड लॉ कोर्स – बी.ए. + एल.एल.बी.

अगर आप लॉयर (अधिवक्ता) बनना चाहते है तो आप ये डिग्री करें।

कोर्स की अवधि: 1 साल

14. बी.पी.ईडी. – बैचलर ऑफ फिजिकल एज्यूकेशन

12वीं कॉमर्स के बाद क्या करें ?

करियर के विकल्प:

  1. बैचलर ऑफ कॉमर्स [बी.कॉम/बी.कॉम (ऑनर्स)]
  2. व्यवसाय प्रशासन स्नातक (बीबीए)
  3. प्रबंधन अध्ययन स्नातक (बीएमएस)

बी.कॉम, बीबीए, बीएमएस के बाद करियर के अवसर:

  • प्रशासन और संचालन
  • परियोजना प्रबंधन (कार्यकारी स्तर)
  • उद्यम प्रबंधन
  • मानव संसाधन प्रबंधन और विकास
  • ग्राहक प्रबंधन
  • डेटा प्रबंधन और सिस्टम विश्लेषण
  • बिक्री और विपणन
  • वित्तीय प्रबंधन
  • संचार प्रबंधन

इंडस्ट्री और सेक्टर

  • बैंकिंग
  • कंसल्टेंसी
  • डिजिटल मार्केटिंग
  • मनोरंजन
  • फाइनेंस
  • सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी)
  • बीमा
  • मीडिया
  • ऑफलाइन मार्केटिंग
  • विनिर्माण
  • विज्ञापन

4. चार्टर्ड अकाउंटंसी
करियर :
अकाउंटेंट, सीए

5. कंपनी सेक्रेटरी
करियर:
सीएस

6. कोस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट
करियर:
कोस्ट अकाउंटेंट

12वीं विज्ञान के बाद क्या करें ?

कोर्स के विकल्प और करियर अवसर:

  1. डॉक्टर बनने के लिए 5 साल की बैचलर ऑफ़ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ़ सर्जरी (एमबीबीएस) डिग्री करनी होगी।

2. डेंटिस्ट बनने के लिए 4 साल की बैचलर ऑफ़ डेंटल सर्जरी (बीडीएस) डिग्री करनी होगी।

3. नर्स बनने के लिए 4 साल की बी.एससी नर्सिंग डिग्री करनी होगी।

4. पैरामेडिसीन फील्ड में जा सकते है।

  • करियर के अवसर: फिजियोथेरेपी, स्पीच थेरेपी, ऑडियोलॉजी, नर्सिंग, ऑक्यूपेशनल थेरेपी, प्रोस्थेटिक्स एंड आर्थोपेडिक्स, मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी, ओप्टोमीटर एंड ओफ्थल्मिक टेक्नोलॉजी, न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स।

5. फार्मासिस्ट बनने के लिए बी फार्मा डिग्री करनी होगी।

6. वेटेरीनरी डॉक्टर बनने के लिए 4 साल की बी.वी.एससी डिग्री करनी होगी।

इंजीनियरिंग और बाकी क्षेत्र में कोर्स के विकल्प:

1. इंजीनियर बनने के लिए बी.टेक (सॉफ्टवेयर इंजीनियर मैकेनिकल इंजीनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर) डिग्री करनी होगी।

2. सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने के लिए बैचलर ऑफ़ कंप्यूटर एप्लीकेशन डिग्री करनी होगी।

  • कंप्यूटर में करियर के अवसर – इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी/सॉफ्टवेयर/सिस्टम्स-एप्लीकेशन प्रोग्रामर, डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर, इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजिस्ट, मेडिकल ट्रांस्क्रिप्शनिस्ट, नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर, सॉफ्टवेयर इंजीनियर, सिस्टम आर्किटेक्ट, टेक्नोलॉजी मैनेजर, वेब डेवलपर, मल्टीमीडिया डिज़ाइनर।
  • हार्डवेयर डिज़ाइन एंड डेवलपमेंट इंजीनियर, डिज़ाइन एंड डेवलपमेंट ऑफ़ कंप्यूटर हार्डवेयर, डिज़ाइन एंड डेवलपमेंट ऑफ़ कस्टमाइज्ड माइक्रोप्रोसेसर, डिज़ाइन एंड डेवलपमेंट ऑफ़ नेटवर्किंग हार्डवेयर, सर्विस मेंटेनेंस इंजीनियर/टेकनीशियन।

3. आर्किटेक्ट बनने के लिए बैचलर्स ऑफ़ आर्किटेक्चर डिग्री करनी होगी।

4. कमर्शियल पायलट बनने के लिए एयरक्राफ्ट ऑपरेशन्स एविएशन या एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग फील्ड में कोर्स करना होगा।

12वीं के बाद पॉलिटैक्निक कोर्स

पॉलिटैक्निक कोर्स एक बहुत अच्छा विकल्प है उन लोगों के लिए जो 10वीं के बाद सीधा अपना करियर शुरू करना चाहते है. पॉलिटैक्निक कोर्स में आपकी स्किल बेस्ड ट्रेनिंग होती है और पॉलिटैक्निक इंस्टीटूट्स देश भर में है।

पॉलिटैक्निक कोर्स की पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

12वीं के बाद आईटीआई कोर्स

आईटीआई का मतलब होता है ‘इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट’। आईटीआई में ट्रेड्स जैसे कि इलेक्ट्रीशियन प्लम्बर फिटर इत्यादि की वोकेशनल ट्रेनिंग दी जाती है।

आईटीआई कोर्स की पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

12वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स

आर्ट्स वर्ग में डिप्लोमा कोर्स

  • मल्टीमीडिया में डिप्लोमा
  • फोटोग्राफी में डिप्लोमा
  • यात्रा और पर्यटन में डिप्लोमा
  • इवेंट मैनेजमेंट में डिप्लोमा
  • खानपान संचालन में डिप्लोमा
  • 3डी एनिमेशन में डिप्लोमा
  • विज्ञापन और विपणन में डिप्लोमा
  • इंटीरियर डिजाइनिंग में डिप्लोमा
  • होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा
  • फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा
  • शारीरिक शिक्षा में डिप्लोमा
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा
  • विभिन्न भाषाओं में डिप्लोमा: फ्रेंच, जर्मन, स्पेनिश आदि …

कॉमर्स वर्ग में डिप्लोमा कोर्स

  • डिप्लोमा इन फाइनेंसियल अकाउंटिंग
  • डिप्लोमा इन रिटेल मैनेजमेंट

विज्ञान वर्ग में डिप्लोमा कोर्स

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • जैव प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा
  • पोषण और आहार विज्ञान में डिप्लोमा
  • नर्सिंग में डिप्लोमा
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • सूचना प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा

जॉब के अवसर:

  • मीडिया और विज्ञापन एजेंसी
  • विपणन एजेंसियां/कंपनियां
  • कॉर्पोरेट्स
  • बैंक
  • हॉस्पिटैलिटी सेक्टर
  • अस्पताल
  • सैलून / पार्लर
  • कपड़ा उद्योग
  • आईटी सेक्टर
  • फैशन उद्योग
  • फ्रीलांसर
  • व्यापार

12वीं के बाद डिस्टेन्स एज्यूकेशन 

आप 12वीं पास करने के बाद पढ़ाई के साथ-साथ जॉब या बिजनेस करना चाहते है तो डिस्टेन्स एज्यूकेशन आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। डिस्टेन्स एज्यूकेष्ण को हिन्दी में दूरस्थ शिक्षा कहा जाता है। इसका मतलब होता है ‘ओपन स्कूल’ से पढ़ाई पूरा करना। ओपन कॉलेज में आपको या तो वीकेंड्स पर कॉलेज जाना होता है या सिर्फ परीक्षा देने के लिए जाना होता है। आप ग्रेजुएशन गवर्नमेंट इंस्टीटूशन जैसे की स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग (एसओएल) या प्राइवेट इंस्टीटूशन्स से भी कम्पलीट कर सकते है। डिस्टेंस एज्यूकेशन के साथ आप ऊपर दिए गए सरकारी या प्राइवेट जॉब कर सकते है।

12वीं पास वालों के लिए सरकारी जॉब

ये पोस्ट पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए है।

1. रेलवे ग्रुप डी 2019 भर्ती

योग्यता: एनसीवीटी/एससीवीटी (या) समकक्ष (या) राष्ट्रीय मान्यता प्रमाण पत्र (एनएसी) द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थानों से 10वीं पास आईटीआई एनसीवीटी द्वारा दी गई।
आयु सीमा: 18 वर्ष – 33 वर्ष
चयन प्रक्रिया: कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी), शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीएफटी), दस्तावेज़ सत्यापन और चिकित्सा परीक्षा।

आरआरबी रेलवे ग्रुप डी की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

2. एएलपी टेक्निशियन

आयु सीमा: 18 वर्ष – 30 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
योग्यता: 10 वीं पास
चयन प्रक्रिया: लिखित परीक्षा और साक्षात्कार

रेलवे टेक्निशियन की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

3. आरआरबी एनटीपीसी

आयु सीमा: 18 वर्ष – 30 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
योग्यता: 12 वीं पास
चयन प्रक्रिया: लिखित परीक्षा और साक्षात्कार

आरआरबी एनटीपीसी की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

4. एसएससी सीएचएसएल

आयु सीमा: 18 वर्ष – 27 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
योग्यता: 12 वीं पास
चयन प्रक्रिया: लिखित परीक्षा (2) और टाइपिंग टेस्ट

5. एसएससी मल्टी टास्कटिंग स्टाफ (एमटीएस)

आयु सीमा: 18 वर्ष – 25 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
योग्यता: 10 वीं पास
चयन प्रक्रिया: लिखित परीक्षा (2)

6. एसएससी स्टेनोग्राफर (ग्रेड सी और ग्रेड डी)

आयु सीमा ग्रेड सी: 18 वर्ष – 30 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
आयु सीमा ग्रेड डी: 18 वर्ष – 27 वर्ष (आरक्षित श्रेणियों के लिए छूट)
योग्यता: 12 वीं पास
चयन प्रक्रिया: लिखित परीक्षा और टाइपिंग टेस्ट

7. इंडियन आर्मी महिला सोल्जर

इस पोस्ट के लिए महिलाएं अप्लाई कर सकती है।
आयु सीमा: 17.5 साल – 21 साल  
योग्यता: 10वीं पास
चयन प्रक्रिया: शॉर्टलिस्टिंग, फिजिकल, मेडिकल और लिखित परीक्षा।
पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

8. इंडियन आर्मी पुरुषों के लिए भर्ती

इन पोस्ट के लिए सिर्फ 12वीं पास पुरुष ही अप्लाई कर सकते है।

इस पोस्ट के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

9. इंडियन एयरफोर्स भर्ती पुरुषों के लिए

इन पोस्ट के लिए सिर्फ 12वीं पास पुरुष ही अप्लाई कर सकते हैं।

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

10. इंडियन नेवी वैकेंसी पुरुषों के लिए

इन पोस्ट के लिए सिर्फ 12वीं पास पुरुष ही अप्लाई कर सकते हैं।

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

11. हरियाणा पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती

इस पोस्ट में सिर्फ पुरुष ही कॉन्स्टेबल के लिए 12वीं के बाद अप्लाई कर सकते है।

पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

12वीं पास प्राइवेट जॉब

जानिये की कौन-कौनसी प्राइवेट जॉब्स के लिए आप योग्य है 12वीं पास करने के बाद और शुरू करें अपना करियर। अगर आप ऊपर दिए कोर्स में कोई कोर्स करते है तो आप उस फील्ड में प्राइवेट नौकरी कर सकते है।

  1. बीपीओ जॉब्स में ग्राहक सेवा कार्यकारी
  2. बैंकों और कॉर्पोरेट्स में डेटा एंट्री ऑपरेटर
  3. कंपनियों में बिक्री एजेंट
  4. प्रशासन की नौकरी (कार्यालय प्रशासक)
  5. फ्रंट डेस्क की नौकरी
  6. क्लर्क की नौकरी

12वीं के बाद अपना बिजनेस शुरू करें

अगर आप 12वीं के बाद खुद का बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो ये कुछ बिज़नेस विकल्प है जिसमें आप खुद का बिज़नेस खोल सकते है। इन बिज़नेस की पूरी जानकारी के लिए नीचे लिंक दिये गए है उन पर क्लिक करें।

मेडिकल शॉप कैसे खोलें

ब्यूटी पार्लर कैसे खोलें

टेलरिंग की शॉप कैसे खोलें

ओला/ऊबर का बिजनेस प्लान

अगर आपको कोई भी सवाल या संदेह है तो नीचे कमेंट करें। हम आपको जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here