बिजनेस प्लान

अगरबत्ती बिजनेस कैसे करें, जानिए पूरी जानकारी

अगरबत्ती का उपयोग भारत में लगभग हर घर में होता है और त्योहार के समय पर इसकी बिक्री और ज्यादा बढ़ जाती है। अगरबत्ती बिजनेस कम लागत में ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट देने वाले व्यापारों में से एक है। इस बिजनेस को चलाने के लिए कोई ख़ास ट्रेनिंग की जरूरत नहीं होती है। आप अगरबत्ती बिजनेस घर बैठे बिना किसी स्टाफ को रखें भी चला सकते है। तो इस आर्टिकल में हम आपको अगरबत्ती बिजनेस से जुड़ी सारी जानकारी बताएँगे।

इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे….

अगरबत्ती क्या होती है?

अगरबत्ती बिजनेस चलाने के लिए योग्यता

अगरबत्ती बिजनेस प्लान के लिए जगह

अगरबत्ती बिजनेस प्लान के लिए इन्वेस्टमेंट या लागत

अगरबत्ती बनाने की प्रक्रिया

अगरबत्ती बिजनेस के लिए क़ानूनी प्रक्रिया

अगरबत्ती बिजनेस प्लान में मुनाफा

अगरबत्ती बिजनेस प्लान में मार्केटिंग

अगरबत्ती बिजनेस प्लान को बढ़ाने के तरीके

अगरबत्ती बिजनेस प्लान चलाने के लिए टिप्स

अगरबत्ती क्या होती है?

अगरबत्ती एक स्टिक जैसे होती है जिसे जलने से सुगन्धित खुशबू आती है और इसमें कीटनाशक क्वालिटीज़ भी होती है। अगरबत्ती बिजनेस में जोखिम बहुत ही कम है और इसकी प्रक्रिया बहुत ही सरल है। अगरबत्ती बिजनेस आप एक शहर से दूसरे राज्य तक भी कर सकते हो।

अगरबत्ती बनाकर आप उसको एक्सपोर्ट भी कर सकते है दूसरे देश में जैसे यूएस, मलेशिया, भूटान को जहां इसकी डिमांड है। अगरबत्ती कई तरह की होती है जैसे ब्लैक अगरबत्ती, वाइट अगरबत्ती और सेंट वाली अगरबत्ती।

Agarbatti

अगरबत्ती बिजनेस चलाने के लिए योग्यता

अगरबत्ती बिजनेस बहुत ही आसानी से चलाया जा सकने वाला बिजनेस हैं। यह एक कम लागत वाला बिजनेस प्लान है जिसे कोई भी चला सकता है। बस आप में कुछ करने की लगन होनी चाहिए। कोई भी इंसान अगरबत्ती बिज़नेस का काम ज्यादा से ज्यादा एक सप्ताह में सीख सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस के लिए जगह

अगरबत्ती बिजनेस चलाने के लिए आपको कोई ख़ास लोकेशन/जगह की जरूरत नहीं होती है। आप इसे अपने घर में भी खोल सकते है। अगर आप मशीन के जरिये अपना बिज़नेस करने वाले है तो आपको ऐसी जगह लेनी चाहिए जिसमें वो मशीन आ जाये। एक मशीन के लिए लगभग 50 स्क्वायर फ़ीट की जरूरत होती है और 4 मशीन 200 स्क्वायर फ़ीट में। एक मशीन के साथ बिज़नेस चलाने के लिए लगभग 100 स्क्वायर फ़ीट की जगह की जरूरत होती है।

अगरबत्ती बिजनेस प्लान के लिए लागत

एक अगरबत्ती बिज़नेस में लागत मुख्य रूप से मशीन, रॉ मटेरियल, लोकेशन, पैकेजिंग, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल और स्टाफ पर डिपेंड करती है। इस व्यापार को घर बैठे भी खोला जा सकता है बिना किसी मशीन के न्यूनतम लागत में जिसे आप घरवालों की मदद से भी चला सकते है बिना किसी स्टाफ को रखे।

अगरबत्ती बिज़नेस मशीन का उपयोग करके चलने से अगरबत्ती अच्छी क्वालिटी की बनेगी और एक दिन में ज्यादा बना पाएंगे जिससे आप के हर दिन का प्रॉफिट भी बढ़ जायेगा।

जरुरी मशीन: अगरबत्ती बिज़नेस चलाने के लिए आपको सबसे ज्यादा अगरबत्ती मेकिंग मशीन की जरूरत होती है। आप मैन्युअली भी अगरबत्ती बना सकते है पर उससे प्रोडक्शन कम और टाइम ज्यादा लगेगा। उतने ही समय में आप मशीन से ज्यादा और अच्छी क्वालिटी की अगरबत्ती बना सकते है।

अगरबत्ती बनाने की मशीन

जैसे एक दिन में आप मशीन से 12 घंटे में 80 से 110 किलोग्राम तक की अगरबत्ती का प्रोडक्शन कर सकते है। वही मैन्युअली अर्थात बिना मशीन के आप 70-80 किलोग्राम का ही प्रोडक्शन कर पाएंगे 12 घंटे में जो कि किसी भी व्यक्ति के लिए लगातार 12 घंटे काम करना मुश्किल है।

इसके अलावा आप मिक्सर और ड्रायर मशीन का भी उपयोग कर सकते है। ड्रायर मशीन होने से बारिश के समय पर फायदा होता है। आप इन दोनों मशीन को न भी ले तो कोई ख़ास दिक्कत की बात नहीं है।

अगरबत्ती मेकिंग मशीन 3 प्रकार की होती है। वो है मैन्युअल, ऑटोमेटिक, हाई स्पीड मशीन। चलिए इसके बारे में जानते है:

मैन्युअल अगरबत्ती मेकिंग मशीन: इस तरह की मशीन से अच्छी क्वालिटी की अगरबत्ती का प्रोडक्शन किया जा सकता है। यह मशीन सिंगल पेडल या डबल पेडल की होती है और इसकी कीमत बाकि मशीन से कम होती है। इस तरह की मशीन से 60 सेकंड में 80-100 अगरबत्ती बनाई जा सकती है।

ऑटोमेटिक अगरबत्ती मेकिंग मशीन: ऑटोमेटिक मशीन की जरूरत तब पड़ती है जब आप बड़े लेवल पर अगरबत्ती का प्रोडक्शन करना चाहते है। इस मशीन से आप 60 सेकंड में 140-160 अगरबत्ती का प्रोडक्शन कर सकते है।

हाई स्पीड अगरबत्ती मेकिंग मशीन: हाई स्पीड अगरबत्ती बनाने वाली मशीन से अगरबत्ती अच्छी क्वालिटी के साथ-साथ ज्यादा बनती है। 60 सेकंड में इस मशीन से लगभग 350-420 अगरबत्ती बना सकते है। इस मशीन को चलाने के लिए ज्यादा स्टाफ की जरूरत भी नहीं पड़ती। इस तरह की मशीन से बनी हुई अगरबत्ती की लंबाई 7 इंच से 13 इंच तक होती है।

अगरबत्ती ड्रायर मशीन: जब आप बड़े लेवल पर अगरबत्ती बनाते है तो आपको ड्रायर की जरूरत पड़ती है। छोटे स्तर पर अगरबत्ती को आप एयर ड्राई भी कर सकते है लेकिन धूप में नहीं सुखाना होता है। इस मशीन से आप 8 घंटे में 155 किलोग्राम अगरबत्ती ड्राई (सूखा) सकते है जिसकी कीमत 25 से 40 रुपए तक की हो सकती है।

अगरबत्ती प्रेमिक्स मिक्सर: इस मशीन को छोटे स्तर के अगरबत्ती बिज़नेस प्लान में अवॉयड कर सकते है और हाथों से प्रेमिक्स को मिला सकते है। लेकिन बड़े स्तर पर आप मिक्सर ले सकते है और इससे आपका काम जल्दी और अच्छे से हो जायेगा। इस मशीन की कीमत 30 से 45 तक हो सकती है।

चलिये अगरबत्ती बनाने के लिए मशीनों की कीमत जानते है:

मशीन

कीमत (लगभग)

जरूरी/वैकल्पिक

अगरबत्ती मेकिंग मशीन

Rs.20,000-50,000

जरूरी

मिक्सर

Rs.20,000-35,000

वैकल्पिक 

ड्रायर मशीन

Rs.15,000-25,000

वैकल्पिक

कुल

Rs.55,000-110,000

 

आप उसी जगह से ये मशीन लें जहां सर्विसिंग की सुविधा हो और जो मशीन लगाने आये उससे आप मशीन के बारे में सारी जानकारी अच्छे से ले लें। ये कुछ वेबसाइट है जहां से आप मशीन की प्राइस देख और खरीद सकते है:

बिजनेस के लिए लोन कैसे लें की पूरी जानकारी के लिए पढ़ें हमारा यह ब्लॉग

अगरबत्ती रॉ मटेरियल: अगरबत्ती में आप प्रेमिक्स बना हुआ दूकान से भी ले सकते है या उससे बना भी सकते है। छोटे स्तर के बिज़नेस में आप खुद से ही बनाएँ जिसके लिए आपको कुछ बेसिक सामान की जरूरत पड़ेगी जो आपको अगरबत्ती बनाने में काम आएंगे। अगरबत्ती में उसका प्रेमिक्स सबसे ज्यादा जरुरी होता है इसलिए ये अच्छी क्वालिटी का होना चाहिए।

चलिये कुछ बेसिक रॉ मटेरियल के नाम और कीमत जानते है:

सामान

संख्या

कीमत (लगभग)

चारकोल पाउडर

1 किलोग्राम

Rs.10

गम पाउडर

1 किलोग्राम

Rs.80

जिकिट पाउडर

1 किलोग्राम

Rs.65

बम्बू स्टिक

1 किलोग्राम

Rs.120

अगरबत्ती परफ्यूम

1 पीस

Rs.400

डीईपी

1 लीटर

Rs.125

 

कुल

Rs.800

आप नीचे बताई हुई वेबसाइट से इन सामानों की प्राइस चेक कर सकते है और खरीद भी सकते है:

पैकेजिंग: अगरबत्ती की अच्छी पैकेजिंग बहुत जरुरी है। इससे आपकी सेलिंग और क्वालिटी पर असर पड़ता है। अच्छी पैकेजिंग देखकर कस्टमर आकर्षित होते है। पैकेजिंग 2 तरह से हो सकती है, एक मैन्युअली और दूसरी मशीन से। मैन्युअली में आपको हाथ से काउंट करके पैकेट में डालना होता है और मशीन से आपको कॉंटेड अगरबत्ती मिलते है पर पैकेट में आप ही को डालना होता है।

पैकेजिंग आप पैकेट या बॉक्स में कर सकते है और उसमें अपनी कंपनी का नाम भी प्रिंट करा सकते है। आपको पैकेट 2 से 10 रुपए तक पड़ जायेगा और बॉक्स 5 से 15 रुपए में।

एक छोटे लेवल पर अगरबत्ती बिज़नेस चलाने के लिए मशीन, रॉ मटेरियल, पैकेजिंग, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल, इत्यादि का मिलाकर 50 से 70 हजार रुपए का खर्चा आएगा।

स्टाफ: बड़े लेवल पर अगरबत्ती बिज़नेस प्लान के लिए आपको स्टाफ की जरूरत पड़ेगी जो उसे सही तरीके से चला सके। चलिए जानते है अच्छे से;

स्टाफ

नंबर

सैलरी (लगभग)

प्रॉडक्शन मैनेजर

1

Rs.12,000-20,000

लेबर

1

Rs.5000-8,000

डिलिवरी करने वाला

1

Rs.8,000-12,000

 

कुल

Rs.25,000-40,000

एक बड़े स्तर पर अगरबत्ती बिज़नेस खोलने के लिए मशीन, रॉ मटेरियल, पैकेजिंग, स्टाफ, इलेक्ट्रिसिटी बिल, वाटर बिल का मिलाकर 80 हजार से एक लाख 20 हजार तक का खर्चा आएगा।

Kayi prakar ki agarbatti

अगरबत्ती बिजनेस प्लान में मुनाफा

मसाला अगरबत्ती में आपको 10 से 15 रुपए प्रति किलोग्राम प्रॉफिट होता है। सेंट वाली अगरबत्ती में आपको मसाला अगरबत्ती से ज्यादा प्रॉफिट होता है जो कि 15 से 45 प्रति किलोग्राम तक होता है। इस हिसाब से आप मसाला अगरबत्ती के 2000-2500 किलोग्राम प्रोडक्शन से महीने में 20 से 30 हजार तक की कमाई कर सकते है और इतने ही सेंट वाली अगरबत्ती के प्रोडक्शन से आप महीने में 30 से 50 हजार तक कमा सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस के लिए कानूनी प्रक्रिया

एक छोटे अगरबत्ती बिज़नेस प्लान के लिए आप को कुछ सरकार द्वारा दिए जाने वाले डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी। जरुरी डाक्यूमेंट्स की लिस्ट नीचे देख सकते है।

  • अपनी कंपनी को आरओसी (रजिस्टर ऑफ कंपनीज़) में पंजीकरण करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • ट्रेड लाइसेंस के लिए लोकल अथॉरिटी में अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • बिजनेस पैन कार्ड के लिए अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • करंट बैंक अकाउंट के लिए अप्लाई करें।
  • अपना बिजनेस एसएसआई यूनिट में रजिस्टर करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • वीएटी रजिस्ट्रेशन के लिए अप्लाई करें। ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

बड़े स्तर पर अगरबत्ती बिजनेस प्लान के लिए 2 और डॉक्युमेंट्स की जरूरत पड़ेगी:

  • फैक्ट्री लाइसेंस
  • प्रदूषण नियंत्रण विभाग से एनओसी चाहिए होगी।

अगरबत्ती बनाने का प्रोसेस

मुख्यतः अगरबत्ती 2 तरह की होती मसाला अगरबत्ती और सेंट वाली अगरबत्ती। जिनको बनाने के लिए आपको प्रेमिक्स रेडी करना होता है:

1) आप चारकोल पाउडर, गम पाउडर, जिगित पाउडर के 1 किलोग्राम मिक्सचर में 600 ml या 650 ml पानी डालें और अच्छे से हाथ से मिलाएँ। आप प्रेमिक्स मिलाने के लिए मिक्सर मशीन का भी उपयोग कर सकते है।

वैसे आप को प्रेमिक्स बना बनाया भी 15 से 45 रुपए में मिल जाता है जो कि आप किसी भी लोकल दूकान से ले सकते है।

2) अब इस गुथे हुए प्रेमिक्स को बम्बू स्टिक्स में पेस्ट करें। इस काम के लिए आप अगरबत्ती मेकिंग मशीन का भी उपयोग कर सकते है। अगरबत्ती को एयर ड्राई करें। आपकी मसाला अगरबत्ती तैयार है।

3) सेंट वाली अगरबत्ती बनाने के लिए मसाला अगरबत्ती को सूखने के बाद 4:1 के रेश्यो में डीईपी और परफ्यूम को मिलाएँ मतलब 4 लीटर डीईपी में 1 लीटर परफ्यूम मिलाएँ और इस मिक्सचर में ड्राई अगरबत्ती को डीईपी करके अगरबत्ती ड्राई कर लें। इस तरह सेंट वाली अगरबत्ती तैयार हो जाएगी।

अगरबत्ती बिजनेस में मार्केटिंग

अगरबत्ती बिज़नेस में मार्केटिंग काफी महत्व है इसलिए इसपर ख़ास ध्यान दें। आप अगरबत्ती की मार्केटिंग 2 तरह से कर सकते है:

1) ऑफलाइन मार्केटिंग: आप अपने आसपास की जनरल स्टोर, मंदिर के पास वाले स्टोर पर संपर्क करें। आप अगरबत्ती के हॉल सेल मार्केटर से भी संपर्क कर सकते है।

आप अगरबत्ती दूसरे देशों में एक्सपोर्ट भी कर सकते है। आज के समय में भारत लगभग 130 देशों को अगरबत्ती एक्सपोर्ट करता है। इससे पता चलता है कि अगरबत्ती की मांग केवल भारत में ही नहीं बल्कि विदेश में भी है।

2) ऑनलाइन मार्केटिंग: आप में अपने बिज़नेस को रजिस्टर कर सकते है। अगरबत्ती बिज़नेस के लिए विज्ञापन भी बना सकते है जो कि टीवी और सोशल मीडिया पर चला सकते है साथ ही आप वेबसाइट भी बना सकते है जिससे आपका प्रोमोशन भी होगा और आप उससे ऑर्डर भी ले सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस को बढ़ाने का तरीका

आप अपना अगरबत्ती बिज़नेस प्लान लोकल एरिया से शुरू करें; जैसे अपने आसपास की जनरल स्टोर, मंदिर के पास की दूकान, जब यहाँ से अच्छा रिस्पोंस मिलने लगे तो आप एक शहर से दूसरे शहर में भी बिज़नेस कर सकते है। अगरबत्ती की मांग केवल देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी है, तो आप अपने अगरबत्ती बिज़नेस को विदेश में भी एक्सपोर्ट कर के चला सकते है।

अगरबत्ती बिजनेस चलाने के टिप्स

  • अगरबत्ती को धूप में न सुखाएँ बल्कि उसे हवा में सुखाएँ।
  • अगरबत्ती बिजनेस को पहले छोटे स्तर पर शुरू करें और कम मशीन के साथ अच्छा प्रॉफ़िट मिलने के बाद अपना बिजनेस बढ़ाएँ।
  • मसाला अगरबत्ती के साथ-साथ सेंट वाली अगरबत्ती भी बेचें क्योंकि सेंट वाली अगरबत्ती में प्रॉफ़िट ज्यादा होता है।
  • यह प्रयास करें कि अगरबत्ती व्यापार के शुरुआत में कम स्टाफ रखें।

आशा करते है कि आपको अगरबत्ती बिजनेस के बारे में अच्छे से जानकारी मिल गयी है, लेकिन अगर फिर भी आप कुछ पूछना चाहते है तो हमें कमेंट में पूछ सकते हैं जिसका जवाब हम जल्द से जल्द देने का प्रयास करेंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here