सरकारी नौकरी पुलिस भर्ती

एमपी पुलिस भर्ती: कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर पोस्ट

एमपी पुलिस भर्ती: व्यापम भर्ती 2019 में एमपी पुलिस वैकेंसी की नोटिफिकेशन रिलीज़ होने वाली है। पिछली बार भर्ती में कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर (एसआई) की वैकेंसी 2017 में निकली थी। 2019 की नोटिफिकेशन जल्द ही आने वाली है। इस भर्ती की हर ज़रूरी जानकारी इस आर्टिकल में बताई गयी है, तो चलिये जानते है।

दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल भर्ती निकल चुकी है। नोटिफिकेशन के लिए यहाँ क्लिक करें।

आप इन लिंक पर क्लिक करके सीधा अपना टॉपिक पढ़ सकते है:

एमपी पुलिस भर्ती 2019 की पूरी जानकारी

एमपी पुलिस एसआई और कांस्टेबल की सैलरी

एमपी पुलिस भर्ती 2019 की महत्वपूर्ण तारीखें

एमपी पुलिस भर्ती शैक्षिक योग्यता

मध्य प्रदेश पुलिस में योग्यता

एमपी पुलिस वैकेंसी 2019 ऑनलाइन फॉर्म

फॉर्म भरने के लिए जरूरी दस्तावेज

एमपी पुलिस का सिलेक्शन प्रोसेस

एमपी पुलिस सिलेबस

एमपी पुलिस की तैयारी के लिए स्टडी मटेरियल

एमपी पुलिस भर्ती का परिणाम


एमपी व्यापम पुलिस वैकेंसी 2019 की जानकारी

एमपी पुलिस कांस्टेबल और एसआई भर्ती (एमपी व्यापम पुलिस कांस्टेबल और एसआई रिक्रूटमेंट) मध्य प्रदेश प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (एमपीपीईबी) के अंतर्गत आती है। यह पोस्ट दोनों महिला और पुरुषों के लिए होती है। इस भर्ती में सरकारी नौकरी (स्टेट गवर्नमेंट) की लगती है। 2019 भर्ती की नोटिफिकेशन जैसे ही आएगी यहाँ अपडेट कर दी जाएगी।

  1. एमपी पुलिस कांस्टेबल की पिछली वैकेंसी

क्र॰ संख्या

भर्ती का नाम

पोस्ट की संख्या

1.

कांस्टेबल (जीडी)

12,828

2.

कांस्टेबल (ड्राईवर)

702

3.

कांस्टेबल (कुक)

136

4.

कांस्टेबल (बार्बर)

34

5.

कांस्टेबल (वॉशरमेन)

39

6.

कांस्टेबल (कोब्लर)

15

7.

कांस्टेबल (वॉटर कैरियर)

97

8.

कांस्टेबल (स्वीपर)

44

9.

कांस्टेबल (मसोन)

11

10.

कांस्टेबल (बगलर)

11

11.

कांस्टेबल (टेट खलासी)

14

12.

हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर)

123

13.

असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर

34

 

कुल

14,088

2. एमपी पुलिस सब इंस्पेक्टर की भर्ती

क्र॰ संख्या

नाम

पोस्ट की संख्या

पोस्ट का प्रकार (टेक्निकल/नॉन टेक्निकल)

1.

सब इंस्पेक्टर (डिस्ट्रिक्ट फोर्स)

 

नॉन-टेक्निकल

2.

सब इंस्पेक्टर (स्पेशल ब्रांच)

 

नॉन-टेक्निकल

3.

सब इंस्पेक्टर (ओर्डनेंस )

 

टेक्निकल

4.

सब इंस्पेक्टर (क्यू॰ डी॰)

 

टेक्निकल

5.

सब इंस्पेक्टर (रेडियो)

 

टेक्निकल

6.

सब इंस्पेक्टर (फिंगर प्रिंट्स)

 

टेक्निकल

7.

सूबेदार

 

नॉन-टेक्निकल

8.

प्लाटून कमांडर

 

नॉन-टेक्निकल

 

कुल

850

 

एमपी पुलिस एसआई और कांस्टेबल की सैलरी

पोस्ट लेवल

सैलरी

ग्रेड पे

कांस्टेबल

5,200 – 20,200

1,900

हेड कांस्टेबल

5,200 – 20,200

2,100

सब इंस्पेक्टर

8,200 – 30,300

2,400

एमपी पुलिस वैकेंसी 2019 की महत्वपूर्ण तिथियाँ

कार्यक्रम

तारीख

आधिकारिक नोटिफिकेशन रिलीज की तारीख

घोषित होगी

फॉर्म भरने की तारीख

घोषित होगी

फॉर्म भरने की आखिरी तारीख

घोषित होगी

फीस भरने की आखिरी तारीख

घोषित होगी

लिखित परीक्षा की तारीख

अगस्त-सितंबर 2019 (अनुमानित)

एडमिट कार्ड डाउनलोड होगा

परीक्षा से 10-15 दिन पहले

परिणाम

घोषित होगी

एमपी पुलिस में योग्यता

एमपी पुलिस में भर्ती के लिए कुछ योग्यताएँ होती हैं जैसे राष्ट्रीयता, आयु सीमा, फिजिकल फिटनेस इत्यादि।

राष्ट्रीयता

एमपी पुलिस भर्ती के लिए आप तभी अप्लाई कर सकते हैं अगर आप –

  • भारत के नागरिक हों, या
  • नेपाल से हों, या
  • भूटान से हों, या
  • अगर आप एक तिब्बत के रिफ़्यूजी है जो कि 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में बसने के लिए आये हों।

आयु सीमा (कांस्टेबल और सब इंस्पेक्टर के लिए)

गज़ेटेड ऑफिसियल एग्जीक्यूटिव पोस्ट के लिए

21-28 साल

एमपी पुलिस ग्रुप 3 और 4

21-25 साल

मध्य प्रदेश के लिए निवासियों के लिए आयु सीमा में छूट

श्रेणी

साल

अधिकतम आयु सीमा

एमपी राज्य के सामान्य श्रेणी के लिए छूट

5 साल

33 साल

एमपी राज्य के ग्रुप 3 और 4 के लिए छूट

8 साल

33 साल

सामान्य श्रेणी की महिलाओं के लिए छूट

8 साल

38 साल

महिला और पुरुषों (एससी/एसटी/ओबीसी) के लिए छूट

8 साल

38 साल

नोट- इस बात का ध्यान रखें कि आयु सीमा में छूट सिर्फ मध्य प्रदेश के उम्मीदवारों को ही दी जाएगी। जिन लोगों के पास मध्य प्रदेश का डोमिसाइल नहीं है उनको आयु में कोई छूट नहीं दी जाएगी चाहे वो आरक्षित श्रेणी (एससी/एसटी/ओबीसी) से ही क्यों न हो। सिर्फ एमपी के आरक्षित श्रेणी के कैंडिडेट्स के लिए रिलैक्सेशन दी गयी है।

एमपी पुलिस भर्ती की शैक्षिक योग्यता

मध्य प्रदेश सब-इंस्पेक्टर (एसआई) और कांस्टेबल की पोस्ट के लिए एजुकेशनल क्वालिफिकेशन होनी जरुरी है जो हमने नीचे बतायी है। तो पहले आपको अपनी पढ़ाई भी देखनी है और उसके बाद ही अप्लाई करने के बारे में सोचना है।

एमपी पुलिस कांस्टेबल के लिए योग्यता

कांस्टेबल पोस्ट का नाम

अनारक्षित/एससी/एसटी/ओबीसी के लिए योग्यता

एसटी के लिए योग्यता

कांस्टेबल (जीडी)

10वीं पास होना जरूरी है।

8वीं पास होना जरूरी है।

कांस्टेबल (ड्राईवर)

10वीं पास होना जरूरी है और ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए।

8वीं पास होना जरूरी है और ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए।

कांस्टेबल (ट्रेड- बार्बर, कुक, वॉशरमैन, कॉबलर, वाटर करियर, स्वीपर, मेसन, टेट खलासी और बगलर)

10वीं पास होना जरूरी है और ट्रेड का ज्ञान होना चाहिए।

8वीं पास होना जरूरी है और ट्रेड का ज्ञान होना चाहिए।

कांस्टेबल (रेडियो)

10वीं पास होना जरूरी है।

8वीं पास होना जरूरी है।

हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर)

  • आप 12वीं पास होना चाहिए और आपके पास 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित जैसे विषय होने चाहिए।
  • यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन) द्वारा किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) में 1 साल का डिप्लोमा या फिर हायर एजुकेशन होनी चाहिए।
  • आप 12वीं पास होना चाहिए और आपके पास 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और गणित जैसे विषय होने चाहिए।
  • यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन) द्वारा किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) में 1 साल का डिप्लोमा या फिर हायर एजुकेशन होनी चाहिए।

असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर (कंप्यूटर)

यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन) द्वारा किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर या आईटी में 1 ग्रेज्युएशन या फिर कंप्यूटर में 3 साल डिप्लोमा या हायर एजुकेशन होनी चाहिए।

यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन) द्वारा किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर या आईटी में 1 ग्रेज्युएशन या फिर कंप्यूटर में 3 साल डिप्लोमा या हायर एजुकेशन होनी चाहिए।

सब-इंस्पेक्टर के लिए योग्यता

सब-इंस्पेक्टर पोस्ट के नाम

योग्यता

सब-इंस्पेक्टर (डिस्ट्रिक्ट फोर्स, स्पेशल ब्रांच, क्यू॰डी॰ फिंगर प्रिंट)

ग्रेज्युएशन या उसके समकक्ष

सब-इंस्पेक्टर (ओर्डेन्स)

किसी मान्यता प्राप्त विव्श्विद्यालय से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में 3 साल का डिप्लोमा होना चाहिए।

सब-इंस्पेक्टर (रेडियो)

इलेक्ट्रिकल या इलेक्ट्रिकल टैली कम्यूनिकेशन में 3 साल का डिप्लोमा होना चाहिए।

सूबेदार और प्लाटून कमांडर

ग्रेज्युएशन या उसके समकक्ष

फिजिकल फिटनेस

पुलिस भर्ती में फिजिकल फिटनेस एक महत्वपूर्ण किरदार निभाता है। तो आइये अब जानते हैं पुरुष और महिला कैंडिडेट्स के लिए फिजिकल फिटनेस कैसा होना चाहिए।

उम्मीदवारकदछाती
पुरुष (उम्मीदवार)167.5 cm81 cm (बिना फुलाए)
86 cm (फुलाकर)
महिला (उम्मीदवार)152.4 cm

ध्यान दें: उम्मीदवारों को किसी भी प्रकार आँखों में कोई समस्या नहीं होनी चाहिए और पैर फ्लैट नहीं होने चाहिए।

एमपी पुलिस वैकेंसी 2019 ऑनलाइन फॉर्म

ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें

स्टेप 1: सबसे पहले एमपी पुलिस की आधिकारिक वैबसाइट या व्यापम की वेबसाइट पर जाना है और नोटिफिकेशन को सही से पढ़ना है।

स्टेप 2: उसके बाद अप्लाई ऑनलाइन/न्यू यूजर पर क्लिक करें। न्यू यूजर पर न्यू रजिस्ट्रेशन के लिए क्लिक करें, अगर आप पहले से अकाउंट बना चुके हैं तो लॉगिन करें।

स्टेप 3: जिस पोस्ट के लिए आप अप्लाई करना चाहते हैं उस पर क्लिक करें।

उदाहरण – अगर आप एमपी पुलिस कांस्टेबल की पोस्ट के लिए अप्लाई करते हैं तो क्लिक करने पर उसका ऑनलाइन फॉर्म स्क्रीन पर आ जायेगा।

स्टेप 4: फॉर्म में अपनी पर्सनल और जरूरी जानकारी भरनी है।

स्टेप 5: अपनी सेल्फ अटेस्टेड ताजी पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और सिग्नेचर अपलोड करें।

स्टेप 6: ऑनलाइन मोड के जरिये एप्लिकेशन फीस भरें।

स्टेप 7: कन्फर्मेशन के बाद फी प्रोसेस करें। एप्लीकेशन फॉर्म की पेमेंट आप डेबिट कार्ड/ क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग के जरिये कर सकते हैं।

स्टेप 8: फॉर्म को सेव कर लें और एक हार्ड कॉपी प्रिंट करवा लें।

नोट- इस बात का ध्यान रखें कि आप एप्लीकेशन फॉर्म सिर्फ ऑनलाइन ही भर सकते हैं। एप्लीकेशन फॉर्म की पेमेंट आप डेबिट/क्रेडिट कार्ड या फिर इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा ही भर सकते हैं।

श्रेणी अनुसार एप्लिकेशन की फीस

श्रेणी

पेपर 1 फीस

पेपर 2 फीस

सामान्य/अनारक्षित

500

700

एससी/एसटी/ओबीसी/ (एमपी के निवासियों के लिए)

250

350

फॉर्म भरने के लिए जरूरी दस्तावेज़

  1. 10वीं और 12वीं की मार्कशीट – इसकी ओरिजिनल कॉपी और कम से कम 5-7 फोटोकॉपी रखें।

2. मध्य प्रदेश का मूल निवास प्रमाण पत्र – जो उम्मीदवार एमपी से उनके पास मूल निवास प्रमाण पत्र भी होना जरूरी है।

3. 20 पासपोर्ट साइज के फोटो।

4. शादी होने का प्रमाण पत्र – जिन उम्मीदवारों की शादी हो चुकी है उन्हें शादी का प्रमाण पत्र दिखाना होगा।

5. जाति प्रमाण पत्र – जो कैंडिडेट्स एससी/एसटी या किसी और जाति से है उनके पास प्रूफ के तौर पर यह जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए।

6. पुलिस वेरिफिकेशन – आप अपने जिले के एसपी ऑफिस से पुलिस वेरिफिकेशन ले सकते हैं। पुलिस वेरिफिकेशन इसलिए मांगी जाती है ताकि अथॉरिटीज यह वेरीफाई कर सके कि कैंडिडेट पर कोई केस नहीं है।

एमपी पुलिस सिलेक्शन प्रोसेस

इसके बाद अब हम बात करेंगे मध्य प्रदेश पुलिस सिलेक्शन प्रोसेस के बारे में जिसमें आप जानेंगे कि कांस्टेबल और सब – इंस्पेक्टर की पोस्ट के लिए क्या स्टेप्स फॉलो करने पड़ते हैं।

कांस्टेबल सिलेक्शन प्रोसेस: कांस्टेबल पोस्ट के लिए 4 फेज में सिलेक्शन होता है।

पेज 1: लिखित परीक्षा

  • लिखित परीक्षा में आपसे मल्टीपल चोईस क्वेश्च्न पूछे जाएँगे।
  • इसमें 2 पेपर होते है।
  • पेपर 1 जो है 100 अंकों का। यह कांस्टेबल की सभी पोस्ट के लिए होता है।
  • पेपर 2 भी 100 नंबर का होता है। लेकिन यह सिर्फ हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर) और एएसआई (कंप्यूटर) की पोस्ट वालों के लिए ही होता है।
  • पेपर 1 जो कक्षा 8 के अनुसार बनाया जाता है।
  • लिखित परीक्षा में अगर आप किसी सवाल का जवाब गलत देते है उसके नंबर नहीं काटे जाएँगे।

पेपर 1 की परीक्षा का पैटर्न

क्र॰ संख्या खंड अंक अवधि
1.

जनरल नॉलेज और रीजनिंग

40 अंक

120 मिनट (2 घंटे)

2.

इंटेलेक्चुअल एबिलिटी और मेन्टल एप्टीटुड

30 अंक

3.

साइंस और सिंपल अरिथमेटिक

30 अंक

 

कुल

100 अंक

120 मिनट (2 घंटे)

पेपर 2 परीक्षा का पैटर्न

अगर हम पेपर 2 की बात करें तो यह बिलकुल पेपर 1 जैसा ही होता है लेकिन यह पेपर हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर) और एएसआई (कंप्यूटर) की पोस्ट के लिए दिया जाता है इसलिए इसमें कंप्यूटर नेटवर्किंग सॉफ्टवेयर सब्जेक्ट से जुड़ी टेक्निकल नॉलेज भी टेस्ट की जाती है।

ध्यान दें – अगर कोई उम्मीदवार हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर) और एएसआई (कंप्यूटर) की पोस्ट के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो उनके लिए पेपर 1 और पेपर 2 दोनों देने जरूरी है।

फेज 2: डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन

अब हम आपको बताएँगे कि डाक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन के समय आपको कौनसे डाक्यूमेंट्स की ज़रूरत पड़ती है –

  • ओरिजनल जन्म प्रमाण पत्र और 12वीं की मार्कशीट।
  • शैक्षिक प्रमाण पत्र।
  • एससी/एसटी/ओबीसी श्रेणी के उम्मीदवारों के पास अपना जाति प्रमाण पत्र हहोना चाहिए। जाति प्रमाण पत्र जारी करने वाले का नाम, जाति, ऑफिस इत्यादि सब लिखे हुए होने चाहिए।
  • सेल्फ सरविंग नॉन – कमीशंड ऑफिसर्स के पास आयु में छूट के बेनिफिट को अवैल करने के लिए कम्पीटेंट अथॉरिटीज द्वारा जारी किये गए ओरिजिनल सर्टिफिकेट्स होने चाहिए।
  • एक्स- सर्विसमैन के पास आर्मी का ओरिजिनल सर्टिफिकेट ऑफ़ सर्विस होना चाहिए।
  • प्री- एम्प्लॉयड कैंडिडेट्स के पास एम्प्लायर द्वारा जारी किया गया प्रूफ ऑफ़ सर्विस होना चाहिए।
  • छोड़ी हुई महिलाओं के केस में महिलाओं को प्रूफ सर्टिफिकेट देना पड़ेगा कि शादी के बाद उनके पति ने उन्हें बिना डाइवोर्स दिए छोड़ दिया था।
  • जिन उम्मीदवारों को ‘विक्रम’ अवार्ड मिला है उन्हें आयु में छूट के लिए ‘विक्रम’ अवार्ड का प्रूफ देना पड़ता है।
  • शादीशुदा उम्मीदवारों को अपने बच्चो का जन्म प्रमाण पत्र भी सबमिट करना पड़ेगा अगर बच्चे है तो।
  • कांस्टेबल (ड्राइवर) की पोस्ट के लिए वैध ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए।

ध्यान दें – जो उम्मीदवार लिखित परीक्षा को क्लियर करते हैं उसके बाद वे सीधा फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट के लिए नहीं जाते है। लिखित परीक्षा क्लियर करने के बाद कैंडिडेट के ऑफिसियल सर्टिफिकेट्स की वेरिफिकेशन की जाती है। अगर आवेदक के सभी डाक्यूमेंट्स सही पाए जाते हैं तभी वह अगले राउंड के लिए क्वालीफाई कर पाते हैं। लेकिन अगर आपने लिखित परीक्षा क्लियर कर दी है लेकिन आप डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में फ़ैल हो गये हैं तो आप फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाएंगे।

फेज 3: फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट

इस टेस्ट में उम्मीदवारों से 800 मीटर दौड़ लगवाई जाती है, शॉट पुट और लॉन्ग जम्प भी करवाई जाती है। फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट में कैंडिडेट्स को कोई अंक नहीं दिए जाते है यह सिर्फ क्वालीफाइंग होती है। कैंडिडेट को 800 मीटर रेस में 1 ही अवसर मिलता है और लॉन्ग जम्प और शॉट पुट में 3 अवसर मिलते हैं।

ध्यान दें – फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट में किसी भी उम्मीदवार को स्वास्थ्य या किसी भी बेसिस पर कोई छूट नहीं दी जाती है और किसी भी प्रकार का मेडिकल सर्टिफिकेट नहीं मांगा जाता है।

फेज 4: ट्रेड/ ड्राइविंग टेस्ट –

कांस्टेबल ट्रेड्समैन/ ड्राइवर के लिए यह ड्राइविंग/ ट्रेड का टेस्ट कंडक्ट करवाया जाता है। इस टेस्ट की वीडियोग्राफी भी कराई जाती है।

सब इंस्पेक्टर सिलेक्शन प्रोसेस: एसआई की पोस्ट के लिए 4 फेज में चयन किया जाता है।

फेज 1: लिखित परीक्षा

  • लिखित परीक्षा में आपसे मल्टीपल चोईस क्वेश्च्न पूछे जाएँगे।
  • लिखित परीक्षा में अगर आप किसी सवाल का जवाब गलत देते है उसके नंबर नहीं काटे जाएँगे।

सब इंस्पेक्टर पेपर 1&2 परीक्षा का पैटर्न

पेपर

पोस्ट का प्रकार (टेक्निकल और नॉन टेक्निकल)

खंड अधिकतम अंक कुल अंक अवधि 

पेपर 1

सिर्फ टेक्निकल पोस्ट के लिए

फिजिक्स

33 अंक

100 अंक

2 घंटे

केमिस्ट्री

33 अंक

गणित

44 अंक

पेपर 2

टेक्निकल और नॉन टेक्निकल पोस्ट के लिए

हिन्दी

70 अंक

200 अंक

3 घंटे

अंग्रेजी

30 अंक

 

सामान्य ज्ञान

100 अंक

 

ध्यान दें – लिखित परीक्षा के बाद उम्मीदवारों के कुछ और टेस्ट भी लिए जाएँगे जैसे –

  1. डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन
  2. कद और सीने की मीजरमेंट
  3. उम्मीदवारों के नोक नी और फ्लैट फूट भी देखे जाएँगे।

डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन
अब हम आपको बताएँगे कि डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन के समय आपको कौनसे दस्तावेजों की जरूयार्ट होती है।

  • ओरिजनल जन्म प्रमाण पत्र और 12वीं की मार्कशीट।
  • शैक्षिक प्रमाण पत्र।
  • एससी/एसटी/ओबीसी श्रेणी के उम्मीदवारों के पास अपना जाति प्रमाण पत्र हहोना चाहिए। जाति प्रमाण पत्र जारी करने वाले का नाम, जाति, ऑफिस इत्यादि सब लिखे हुए होने चाहिए।
  • सेल्फ सरविंग नॉन – कमीशंड ऑफिसर्स के पास आयु में छूट के बेनिफिट को अवैल करने के लिए कम्पीटेंट अथॉरिटीज द्वारा जारी किये गए ओरिजिनल सर्टिफिकेट्स होने चाहिए।
  • एक्स- सर्विसमैन के पास आर्मी का ओरिजिनल सर्टिफिकेट ऑफ़ सर्विस होना चाहिए।
  • प्री- एम्प्लॉयड कैंडिडेट्स के पास एम्प्लायर द्वारा जारी किया गया प्रूफ ऑफ़ सर्विस होना चाहिए।
  • छोड़ी हुई महिलाओं के केस में महिलाओं को प्रूफ सर्टिफिकेट देना पड़ेगा कि शादी के बाद उनके पति ने उन्हें बिना डाइवोर्स दिए छोड़ दिया था।
  • जिन उम्मीदवारों को ‘विक्रम’ अवार्ड मिला है उन्हें आयु में छूट के लिए ‘विक्रम’ अवार्ड का प्रूफ देना पड़ता है।
  • शादीशुदा उम्मीदवारों को अपने बच्चो का जन्म प्रमाण पत्र भी सबमिट करना पड़ेगा अगर बच्चे है तो।

ध्यान दें – अगर कोई कैंडिडेट लिखित परीक्षा को क्लियर कर लेता लेकिन अगर उन्होंने अपने ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म में कोई गलत जांकरी लिखी है या वह डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन में फ़ैल हो जाते हैं तो वह अगले राउंड यानि की फिजिकल राउंड के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाएंगे।

पेज 2: फिजिकल मीजरमेंट टेस्ट (पीएमटी) – इसमें आवेदकों का कद और छाती देखी जाती है। अगर उम्मीदवारों की लंबाई और छाती सही पायी जाती है तभी वह अगले राउंड के लिए क्वालीफाई कर पाते हैं जो कि फिजिकल एण्डुरेंस टेस्ट का होता है। पीएमटी राउंड में यह भी चेक किया जाता है कि कहीं कैंडिडेट का फ्लैट फुट तो नहीं है।

फेज 3: फिजिकल एण्डुरेंस टेस्ट (PET)- इस टेस्ट में आपसे दौड़ लगवाई जाती है, लॉन्ग जम्प और शॉट-पुट करवाया जाता है। फिजिकल एण्डुरेंस टेस्ट में कैंडिडेट्स को कोई अंक नहीं दिए जाते है और यह सिर्फ क्वालीफाइंग राउंड होता है। आवेदकों को 800 मीटर रेस में 1 ही अवसर मिलता है और लॉन्ग जम्प और शॉट पुट में 3 मौके मिलते हैं।

फेज 4: इंटरव्यू – ऊपर बताए गए सभी राउंड क्लियर करने के बाद आखिरी राउंड होता है पर्सनल इंटरव्यू का। पर्सनल इंटरव्यू राउंड के 10 अंक होते है।

एमपी पुलिस सिलेबस 2019

कांस्टेबल पोस्ट के लिए सिलेबस

  1. लिखित परीक्षा का सिलेबस – अगर हम लिखित परीक्षा की बात करें तो इसमें पेपर 1 और पेपर 2 होते है।

a) पेपर 1 का सिलेबस

खंड

टॉपिक

सामान्य ज्ञान

प्रमुख वन्यजीव अभयारण्य और राष्ट्रीय उद्यान, प्रमुख नदियाँ, सिंचाई योजना, प्रमुख पर्यटन (किलों, महल, प्राचीन उल्लेखनीय प्राकृतिक स्थल, गुफाएँ, समाधि स्थल आदि), मध्य प्रदेश की प्रमुख हस्तियाँ, खेल, राजनीतिक, कलाकार, प्रशासन, लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता आदि।

रीजनिंग

एनालोजी, सिमिलरटीज और डिफरेंसेस, स्पाटिअल विज्युलाइजेशन, स्पाटिअल ओरिएंटेशन, प्रॉब्लम सॉल्विंग, एनालिसिस जजमेंट, डिसिशन मेकिंग, विज्युअल मेमोरी, डिस्क्रिमिनेशन, ऑब्जरवेशन, रिलेशनशिप कॉन्सेप्ट्स, अरिथमेटिक रीजनिंग, वर्बल एंड फिगर क्लासिफिकेशन, अरिथमेटिकल नंबर सीरीज, नॉन वर्बल सीरीज, कोडिंग एंड डिकोडिंग, स्टेटमेंट कंकलुजन और सिल्लोजिस्टिक रीजनिंग इत्यादि।

इंटेलेक्चुअल एबिलिटी और मेन्टल एप्टीटुड

वेन डायग्राम, ड्राइंग इन्फेरेंसेस, पंच्ड होल पैटर्न- फोल्डिंग एंड अनफोल्डिंग, फीगरल पैटर्न- फोल्डिंग एंड कम्पलीशन इंडेक्सिंग, एड्रेस मैचिंग, डेट एंड सिटी मैचिंग, सेंटर कोड्स/ रोल नंबर्स की क्लासिफिकेशन, स्माल एंड कैपिटल लेटर्स/ नंबर्स कोडिंग डिकोडिंग एंड क्लासिफिकेशन, एम्बेडेड फिगर्स, क्रिटिकल थिंकिंग, इमोशनल और सोशल इंटेलिजेंस।

विज्ञान

जनरल फिजिक्स से जुड़े कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जैसे वेट, मास, वॉल्यूम, रिफ्लेक्शन, रिफ्रक्शन, ट्रांसपेरेंसी, लॉ ऑफ़ मोशन, ग्रेविटेशन इत्यादि।

केमिस्ट्री से जुड़े कुछ सवाल पूछे जाते है जैसे केमिकल रिएक्शंस, डिफरेंट एसिड्स, बेसेस एंड साल्ट्स, मेटल्स एंड नॉन- मेटल्स, केमिकल फार्मूला, बैलेंसिंग इत्यादि।

बायोलॉजी से जुड़े कुछ सवाल पूछे जाते है जैसे ह्यूमन बॉडी स्ट्रक्चर, बैक्टीरिया, रोग और उनके लक्षण इत्यादि।

सिंपल अरिथमेटिक

सिम्प्लिफिकेशन, एवरेज, पर्सेंटेज, टाइम एंड वर्क, एरिया, प्रॉफ़िट एंड लॉस, सिंपल एंड कंपाउंड, इंटरेस्ट, टाइम एंड स्पीड, इन्वेस्टमेंट, एचसीएफ़ एंड एलसीएम, प्रॉब्लम ऑन एज, बार ग्राफ्स, पिक्टोरियल ग्राफ्स, पाई चार्ट एंड डाटा इंटरप्रिटेशन।

b) पेपर 2 का सिलेबस

जो उम्मीदवार हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर) और एएसआई (कंप्यूटर) की पोस्ट के लिए अप्लाई करते हैं उन्हें पेपर 2 देना पड़ता है जिसका सिलेबस पेपर 1 के सिलेबस के साथ-साथ उसमें कंप्यूटर नेटवर्किंग सॉफ्टवेयर सब्जेक्ट से जुड़ी टेक्निकल नॉलेज भी टेस्ट की जाती है।

2. फिजिकल प्रोफिसिएंसी टेस्ट (पीपीटी)

क्र॰ संख्या

पोस्ट का नाम

800 मीटर दौड़

शॉट पुट्स (3 अवसर

लॉन्ग जंप (3 अवसर

1.

कांस्टेबल (जीडी)/हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर)/एएसआई कंप्यूटर पुरुष

2 मिनट, 45 सेकंड

19 फीट (गोले का वजन 7.260 किलो)

13 फीट

2.

कांस्टेबल (जीडी)/हेड कांस्टेबल (कंप्यूटर)/एएसआई कंप्यूटर महिला/महिला होमगार्ड

4 मिनट

15 फीट (गोले का वजन 4 किलो)

10 फीट

3.

कांस्टेबल (ट्रेड्समैन)

3 मिनट

कुछ नहीं

कुछ नहीं

4.

एक्स-सर्विसमैन

3 मिनट 15 सेकंड

15 फीट (गोले का वजन 7.260 किलो)

10 फीट

5.

होमगार्ड

3 मिनट 15 सेकंड

17 फीट (गोले का वजन 7.260 किलो)

12 फीट

सब इंस्पेक्टर पोस्ट के लिए सिलेबस

  1. लिखित परीक्षा – लिखित परीक्षा में 2 पेपर कंडक्ट किए जाते है। पेपर 1 जो कि सिर्फ टेक्निकल पोस्ट के लिए होता है और पेपर 2 जो कि टेक्निकल और नॉन टेक्निकल पोस्ट दोनों के लिए होता है।

a) पेपर 1 सिलेबस (सिर्फ टेक्निकल पोस्ट के लिए)

इस पेपर में ग्रेज्युएशन लेवल की विज्ञान से जुड़े टॉपिक कवर किए जाते है जिसमें –

विषय

टॉपिक

केमिस्ट्री

एनालिटिकल केमिस्ट्री, इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री, आर्गेनिक केमिस्ट्री, बायो- मोलेक्युल्स, पॉलीमर्स एंड ड्रग्स, फिजिकल केमिस्ट्री- ए मॉलिक्यूलर एप्रोच इत्यादि।

फिजिक्स

रोल ऑफ़ फिजिक्स, यूनिट्स डाइमेंशन्स, वेक्टर, स्केलर क्वान्टीटीएस और एलीमेंट्री, कैलकुलस, ग्रेविटेशन, फ्रिक्शन, मोशन इन फ्लुइड्स, सर्कुलर मोशन, प्रॉपर्टीज ऑफ़ मैटर- टेम्परेचर, इंटरनल एनर्जी, ओस्किलेशन, वेव्ज इत्यादि।

गणित

सिम्प्लिफिकेशन, एवरेज, पर्सेंटेज, टाइम एंड वर्क, एरिया, प्रॉफ़िट एंड लॉस, सिंपल एंड कंपाउंड, इंटरेस्ट, टाइम एंड स्पीड, इन्वेस्टमेंट, एचसीएफ़ एंड एलसीएम, प्रॉब्लम ऑन एज, बार ग्राफ्स, पिक्टोरियल ग्राफ्स, पाई चार्ट एंड डाटा इंटरप्रिटेश इत्यादि।

b) पेपर 2 का सिलेबस (टेक्निकल और नॉन टेक्निकल पोस्ट दोनों के लिए)

विषय

टॉपिक

अंग्रेजी

टेन्स, मॉडल्स, डिटरमाइन्स, आर्टिकल, वॉइस, नैरेशन, प्रीपोजीशन, क्लौज

एक सवाल अपठित पैसेज का होता है जिसमें वोकैबुलरी रिलेटेड सवाल पूछे जाते हैं जैसे कि वर्ड फार्मेशन और इन्फ्रिंग मीनिंग।

पैसेज 2 टाइप के हो सकते है –

  • फेक्टुयल पैसेज, उदाहरण के लिए – इन्सट्रक्शन, डिसक्रिप्शन, रिपोर्ट्स।
  • डिसकरसिव पैसेज, उदाहरण के लिए – आर्गुमेंटेटिव, पारसुएसिव।

हिन्दी

भाषा बोध-

शब्द निर्माण- (उपसर्ग, प्रत्यय, संधि, समास), समोच्चरित भिन्नार्थक शब्द, अनेकार्थी शब्द, विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, वाक्यांश के लिए एक शब्द, भाव पल्लवन/भाव विस्तार, वाक्य – अशुद्धि संशोधन, वाक्य परिवर्तन, मुहावरे/ लोकोक्तियाँ, समास विग्रह तथा समास के भेद, संक्षिप्तीकरण

पारिभाषिक, तकनीकी शब्दों का प्रयोग, वाक्य भेद (रचना, अर्थ के आधार पर) वाक्य रूपांतर

शब्द युग्म, बोली, विभाषा, मातृभाषा, राजभाषा, राष्ट्रभाषा, मुहावरे/ लोकोक्तियों का वाक्य में प्रयोग

काव्य बोध-

काव्य की परिभाषा – भेद, मुक्तक काव्य, प्रबंध काव्य (महाकाव्य, खण्डकाव्य), रस – परिभाषा, अंग, भेद और उदाहरण, अलंकार – वक्रोक्ति, अतिशयोक्ति, अन्योक्ति, छंद – गीतिका, हरिगीतिका, उल्लाला, रोला, रस परिचय, अंग, रस भेद – उदहारण सहित अलंकार, छंद, काव्य की परिभाषा एवं काव्य के भेद काव्य गुण, क्षेत्रीय बोली – पहेलियाँ, चुटकुले, लोकगीत, लोक कथाओं का परिचय तथा खड़ी बोली में उनका अनुवाद, म.प्र. से प्रकाशित होने वाली हिंदी भाषा की पत्र पत्रिकाओं की जानकारी

अपठित बोध-

एक गद्यांश – शीर्षक, सारांश एवं प्रश्न
एक पद्यांश – शीर्षक, सारांश एवं प्रश्न

सामान्य ज्ञान

जनरल नॉलेज के पेपर में ऑब्जेक्टिव टाइप के सवाल पूछे जाते हैं जो कि मध्य प्रदेश की जनरल इनफार्मेशन पर आधारित होते हैं। इसके साथ नेशनल और इंटरनेशनल मैथमेटिक्स, हिस्ट्री, जियोग्राफी, इकोनॉमिक्स, पोलिटिकल साइंस, सोशल स्टडीज पर आधारित सवाल पूछे जाते हैं। जनरल एप्टीटुड रीजनिंग और जनरल इंटेलिजेंस एबिलिटी पर आधारित भी सवाल पूछे जाते हैं।

2. फिजिकल मीजरमेंट टेस्ट

विवरण

पुरुष

महिला

कद

167.5 cms

152.4 cms

छाती

81- 86 cms (न्यूनतम 5 cms फुलाना जरूरी है)

N/A

3. फिजिकल एण्डुरेंस टेस्ट (पीईटी)

विवरण

पुरुष

महिला

एक्स-सर्विसमैन

800 मीटर दौड़

2 मिनट 40 सेकंड

3 मिनट 30 सेकंड

3 मिनट 5 सेकंड

लॉन्ग जंप

13 फीट

10 फीट

10 फीट

शॉट पुट्स

19 फीट (7.260 किलो)

15 फीट (4 kgs)

15 फीट (7.260 किलो)

एमपी पुलिस के लिए स्टडी मटेरियल

अब हम आपको मध्य प्रदेश पुलिस भर्ती के एग्जाम की तैयारी के लिए कुछ अच्छी पुस्तकों के नाम बताएँगे जिनसे पढ़कर आप परीक्षा में अच्छे से जवाब दे पाएंगे।

सामान्य ज्ञान
मध्य प्रदेश पुलिस परीक्षा के जनरल नॉलेज सेक्शन के लिए 2 किताबें बहुत अच्छी मानी जाती हैं जिनके पब्लिकेशन ये है –
1. लूसेंट
2. पुणेकर

रीजनिंग

रीजनिंग का सेक्शन सबसे महत्वपूर्ण होता है। इस सेक्शन के लिए 2 मुख्य किताबें अच्छी मानी जाती है –
1. अरिहंत पब्लिकेशन, आरके झा की
2. परफेक्ट पब्लिकेशन, दीपक कुमार की

सिंपल अरिथमेटिक
सिंपल अरिथमेटिक के लिए कुछ किताबें ये है –

  1. आरएस अग्रवाल
  2. शारदा पब्लिकेशन

इन किताबों में परीक्षा का पैटर्न के अनुसार टॉपिक दिये गए है।

विज्ञान
विज्ञान में आपको बहुत फायदा होगा अगर आपने 12वीं में या ग्रेजुएशन लेवल पर पढ़ी हो लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो आपको काफी ध्यान देना होगा। इसके लिए लुसेंट की किताब पढ़नी चाहिए।

इसके अलावा आप एमपी परीक्षा एप्लीकेशन भी डाउनलोड कर सकते हैं जहाँ बहुत से सवाल दिए होते हैं। उस ऐप पर टेस्ट पेपर्स भी दिए होते हैं जिन्हें सोल्व करके आप अच्छी तैयारी कर सकते है।

एमपी पुलिस 2019 का परिणाम

एमपी पुलिस भर्ती का परिणाम आप एमपी की आधिकारिक वेबसाइट पर क्लिक करके देख सकते है या व्यापम की वेबसाइट पर चेक कर सकते है।

एमपी पुलिस कांस्टेबल का अनुमानित कट ऑफ

श्रेणी

अनुमानित कट ऑफ के अंक (100 में से)

सामान्य/अनारक्षित

70-75 अंक

ओबीसी

60-75 अंक

एससी

60-65 अंक

एसटी

55-60 अंक

महिला

60-65 अंक

एक्स-सर्विसमैन

40-45 अंक

एमपी पुलिस सब इंस्पेक्टर का अनुमानित कट ऑफ

श्रेणी

अनुमानित कट ऑफ के अंक (200 में से)

सामान्य/अनारक्षित

138-144 अंक

ओबीसी

132- 138 अंक

एससी 

122-127 अंक

एसटी 

118-122 अंक

आशा करते हैं कि इस ब्लॉग की मदद से आपको मध्य प्रदेश (एमपी) पुलिस भर्ती 2019 से जुड़ी पूरी जानकारी मिल गयी होगी। अगर अभी भी आपके मन में कोई सवाल या डाउट है तो हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है जिसका जवाब हम जरूर देंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here