उबर ओला कैब बिज़नेस प्लान हिन्दी में जानें

uber ola business plan inquiry in hindi

उबर या ओला कैब ड्राइवर जॉब से कमाएं ₹40,000 से ज्यादा हर महीने

यदि आप उबर या ओला कैब में ड्राइवर की जॉब करने की सोच रहे है तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें, हम आपको बताएँगे कि उबर/ओला में कैब कैसे लगाए, कौन सी गाड़ी लगाए और कैब ड्राइवर बनकर कितनी कमाई कर सकते है।

उबर ओला बिजनेस प्लान इन हिन्दी में आपको जानने को मिलेगा:

उबर ओला कैब बिज़नेस प्लान

ओला या उबर कैब से कमाई

उबर ओला कैब फाइनेंस स्कीम

ओला या उबर के लिए सबसे अच्छी कार

ओला या उबर में कार लगाने के लिए जरूरतें और डॉक्युमेंट्स

ओला या उबेर में कार कैसे लगाये


ज़माना तेज़ी से बदल रहा है और उससे भी तेज़ बदल रही है टेक्नोलॉजी। आज पूरी दुनिया एक छोटे से फ़ोन में समां गयी है। पहले हम सुबह-सुबह की फ्लाइट या ट्रैन पकड़ने के लिए रात को ही टैक्सी बुक करते थे क्योंकि क्या पता ऐन वक्त टैक्सी न मिले। लेकिन आज समय पूरा बदल गया है और अब हम घर बैठे-बैठे अपने मोबाइल की मदद से कैब या टैक्सी कभी भी बुक कर सकते है।

मेरे एक दोस्त का कहना है कि उबर और ओला की वजह से उसकी ज़िंदगी आसान हो गयी है। अब कहीं भी जाना हो, कोई टेंशन नहीं होती।

ओला और उबर कुछ ऐसी ऐप्लीकेशन आधारित कैब बुकिंग कंपनियाँ है जो न केवल लोगों के सफर को आसान बना रहे है बल्कि कई लोगों को रोज़गार भी दे रही है। अगर आप भी कम पूंजी में अच्छी कमाई करना चाहते है तो ओला या उबेर आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकतें है।

उबर ओला कैब बिज़नेस प्लान जानें

आप इन 3 तरीकों से उबर ओला बिज़नेस प्लान इन्क्वायरी इन हिंदी शुरू कर सकते हैं:

• एक ड्राइवर और खुद मालिक  यदि आपके पास अपनी गाड़ी हैं और आप अपनी गाड़ी खुद चलाना चाहते हैं तो आप ओला या उबर के साथ पार्टनर के तौर पर जुड़ कर बिज़नेस कर सकते हैं।

• नॉन ड्राइविंग पार्टनर या फ्लीट ऑपरेटर  अगर आपके पास खुद की गाड़ी है लेकिन आप खुद उस गाड़ी को नहीं चलाना चाहते तो आप उबर या ओला में फ्लीट ऑपरेटर के तौर पर जुड़ सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे इसमें ड्राइवर भी आपको ही देना होगा क्योंकि कंपनी आपको कोई ड्राइवर नहीं देती है।

• पार्टनर के साथ ड्राइवर घबराइए नहीं अगर आपके पास खुद की गाड़ी नहीं है तो भी आप ओला या उबर ड्राइवर जॉब कर सकते हैं। दरअसल अब आप उबर या ओला से कार लीज पर भी ले सकते हैं।

उबर ओला ड्राइवर सैलरी

अगर आप अच्छी तरह से काम करते हो पूरी मेहनत के साथ तो सारे खर्चे निकाल कर आप ज़रूर 80 रुपए से ज़्यादा कमा सकते है हर महीने। ओला या उबर में आपकी कमाई आपके द्वारा कम्पलीट की गयी सफर मतलब राइडस पर निर्भर करता है।

जैसे कि अगर अपने एक सिंगल राइड कम्पलीट की है तो कंपनी टोटल बिल से आपको 15-20% कमीशन देती है और यह बिल ओला या उबर ऐप में अपने आप कैलकुलेट हो जाता है। इसी तरह अगर आप दिनभर में 12 राइड्स कम्पलीट करते है तो आपको 4000-4500 रुपए का कमिशन मिलता है।

व्यस्ततम समय (पीक हावर्स) में एक राइड कम्पलीट करने पर आपको 250 रुपये का बोनस मिलता है।

पीक आवर्स की टाइमिंग :12 am से 2 am, और 2 pm से 12 pm

यही नहीं अगर आप एयरपोर्ट पर किसी को ड्रॉप करते हो तो आपको 800 रुपए का बोनस मिलता है।

ये सारे पैसे आपके बैंक अकाउंट में सीधे ट्रांसफर हो जाते है।

यदि आप रोजाना 6-7 चक्कर (राइड्स) भी लगाते हैं तो कमिशन कटने के बाद आप महीने के 30000-40000 रुपए कमा सकते हैं।  

उबर ओला कैब बिज़नेस प्लान इन्क्वायरी और फाइनेंस स्कीम  

जिन लोगों के पास खुद की कार नहीं है उनके लिए उबर और ओला कंपनी ने फाइनेंस स्कीम निकाली है जिसके जरिये आप एक गाड़ी ले सकते हैं और अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं।

अगर आप भी ओला या उबर से गाड़ी खरीदने की सोच रहे हैं तो आपको ये प्रोसेस फॉलो करना होगा:

फाइनेंस स्कीम के लिए जरूरी दस्तावेज़

इन डाक्यूमेंट्स को लेकर ओला या उबर के ऑफिस जाना होगा जैसे:

  • आपका कमर्शियल ड्राइवर लाइसेंस (येल्लो बेच)
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • वर्तमान और स्थायी पते का प्रूफ
  • 4 ड्राइवर के रेफेसेन्स (जो ओला या उबर में ड्राइवर हो)
  • बैंक की जानकारी – नाम, बैंक का नाम, अकाउंट नंबर, आईएफ़एससी या नेफ्ट इत्यादि की जानकारी।

फाइनेंस स्कीम की वेरिफिकेशन फीस

उसके बाद आपको वेरिफिकेशन फीस देनी होगी जो लगभग 4000 रुपए (नॉन-रिफंडेबल) होगी और सिक्योरिटी डिपॉजिट लगभग 21 रुपए – 31,000 रुपए (रिफंडेबल) होगी लेकिन ये रकम निर्भर करती है कि आप कौनसी कार लीज पर ले रहे हो।

सारे दस्तावेज़ के वेरिफिकेशन और सिक्योरिटी फीस जमा करने के बाद आपको लीज पर कार मिल जाएगी। ये कार कंपनी के नाम पर ही रजिस्टर्ड रहेगी जब तक आपकी गाड़ी की किश्ते पूरी न हो जाए।

उबर या ओला फाइनेंस स्कीम का रेंट या किस्तें

आपको कार के हिसाब से कार का रोज का रेंट पेय करना होगा जो लगभग 700 से 1150 रुपए होते है। ये पैसा अपने आप आपकी टोटल कमाई से कट जाता है और बाकि बचा पैसा आपको मिल जाता है।

फाइनेंस स्कीम इंश्योरेंस और गाड़ी की मैंटेन्स

कंपनी आपका इंश्योरेंस बना कर देती है। गाड़ी की सर्विस और मेंटेनेंस कंपनी खुद शेड्यूल किये हुए समय के अनुसार करती है। लेकिन एक बात का ध्यान रहे कि कंपनी फिजिकल डैमेज और एक्सीडेंट की जिम्मेदारी नहीं लेती है और इसकी भरपाई भी आपको खुद अपने पैसों से करनी पड़ती है।

ओला या उबर के लिए सबसे अच्छी कार

प्यारे पाठकों जैसे आपको पता है कि कोई भी बिज़नेस शुरू करना आपके बजट पर ही निर्भर करता है। उसी तरह ओला या उबर के साथ बिज़नेस शुरू करने से पहले भी आपको अपना बजट देखना होगा तभी आप ये निर्णय ले पाएंगे कि उबर या ओला के लिए सबसे अच्छी कार कौनसी है।

आपकी सुविधा के लिए हमने गाड़ियों को 4 श्रेणियों में विभाजित किया है:

प्रथम श्रेणी द्वितीय श्रेणी तृतीय श्रेणी चतुर्थ श्रेणी
उबर गो/ओला माइक्रो/ओला मिनी उबर एक्स/ओला प्राइम उबर ब्लैक एसयूवी
वैगनर -आर, सेलेरियो, रिट्ज़, लीवा, माइक्रा, वाइब, इंडिका, विस्टा, ब्राइओ, पल्स और पुंटो इत्यादि। एर्टिगा, स्विफ्ट डी ज़ायर, इटियस, लिनी, वेरीटो, इंडिगो, एस्केण्ट, मोबायलो, अमेज, स्काला इत्यादि। सियाज़, सिटी, क्रॉस, एल्टिस, सन्नी, डस्टर इत्यादि। झाइलो, फोरचूनर, इनोवा इत्यादि।


तो आप अपने बजट के अनुसार ऊपर बताए गए श्रेणियों में से कोई भी कार चुन सकते हैं और ओला या उबर में अपनी गाडी लगा सकते हैं।

ध्यान रहे प्यारे पाठकों कोई भी गाड़ी आपको अधिकतम प्रॉफ़िट तभी देगी जब उसका माइलेज ज्यादा और मैंटेन्स कम होगा।

ओला या उबर में कार लगाने के लिए रिक्वायरमेंट्स

ओला या उबर में गाड़ी लगाना आसान है, आपके पास ये सब होना चाहिए।

  • कमर्शियल लाइसेंस और पुलिस वेरिफिकेशन होना चाहिए।
  • अपनी गाड़ी या फाइनेंस स्कीम से निकलवाई हुई गाड़ी (येलो प्लेट वाली)
  • स्मार्टफोन होना चाहिए जिसमें एंड्रोइड या आईओएस हो और जो ओला या उबर की एप्लिकेशन को चला सके।

कैब लगाने के लिए जरूरी दस्तावेज़

ओला या उबर में कार अटैच करने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स की सूची इस बात पर निर्भर करती है कि आप ओला या उबर में कोई ड्राइवर रखना चाहते हैं या आप खुद अपनी गाड़ी चलाना चाहते हैं।

यदि आप ओला या उबर में कोई ड्राइवर रखना चाहते है तो आपको चाहिए होंगे ये कुछ जरूरी दस्तावेज़:

कार के लिए दस्तावेज़
  1. गाड़ी की आरसी
  2. गाड़ी की परमिट
  3. गाड़ी का इंश्योरेंस
  4. फ़िटनेस सर्टिफिकेट
  5. सभी टैक्स की रशीदें
ड्राइवर के लिए दस्तावेज़
  1. कमर्शियल लाइसेंस
  2. आधार कार्ड
  3. पैन कार्ड
  4. एड्रेस प्रूफ
  5. पुलिस वेरिफिकेशन

यदि आप खुद ही अपनी गाड़ी चलना चाहते हैं तो आपको ऊपर दिए गए डाक्यूमेंट्स के साथ साथ ये डाक्यूमेंट्स भी देने होंगे:

मालिक के जरूरी दस्तावेज़
  1. पैन कार्ड
  2. कैंसल चेक या पासबुक
  3. आधार कार्ड
  4. एड्रेस प्रूफ
  5. ड्राइविंग लाइसेन्स
  6. सर्विस टैक्स रेजिस्ट्रेशन

दोस्तों याद रहे कि सर्विस टैक्स रेजिस्ट्रेशन बहुत जरूरी है क्योंकि इसी के बेस पर ही आपका नया करंट अकाउंट खुलता है।

ओला या उबर में कार कैसे लगाएँ?

अब आपने डाक्यूमेंट्स तो सारे तैयार कर लिए लेकिन सवाल यह है कि आप ओला या उबर में कार लगाएंगे कैसे? तो हम पहले बात करते हैं अगर आपको ओला में कार लगानी हैं तो क्या प्रोसीजर फॉलो करने होंगे।

ओला कैब में गाड़ी कैसे लगाएँ

जैसे कि हमने आपको बताया कि आप ओला में रजिस्ट्रेशन एक पार्टनर या एक ड्राइवर या एक फ्लीट ऑपरेटर की तरह कर सकते हैं।

आप ओला में अपनी कार दो तरीके से लगा सकते है:

ऑफलाइन तरीका

1) सबसे पहले आप ओला का नज़दीकी रीजनल ऑफिस पता करें। आप ओला का रीजनल ऑफिस ओला के मैं ऑफिस में कॉल करके भी पता कर सकते हैं। हमने ओला कैब कंपनी के कांटेक्ट डिटेल्स नीचे बताए हैं।

2) ऊपर बताए गए सभी दस्तावेज़ लेकर ओला के रीजनल ऑफिस पहुँचोगे जहाँ ओला का स्टाफ आपकी गाड़ी की कंडीशन चेक करेगा और ये देखेगा कि आपकी कार ओला के मानकों (स्टैंडर्ड्स) को पूरा करती है या नहीं।

ध्यान रहे दोस्तों आपकी गाड़ी बिलकुल अच्छी कंडीशन में होनी चाहिए और आपकी गाडी 5 साल से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए।

3) उसके बाद ओला का स्टाफ आपको ओला के दिशा निर्देशों (गाइडलाइन्स) के बारे में समझायेगा और आपका ओला के साथ एक कॉन्ट्रैक्ट साइन होगा।

4) कॉन्ट्रैक्ट साइन होने के बाद आपको एक नया स्मार्टफोन दिया जायेगा जिसमें ओला पार्टनर ऐप इन्सटाल्ड होगा और इस तरीके से आप ओला में गाड़ी लगा सकते हैं।

ऑनलाइन तरीका

1) सबसे पहले ड्राइव विथ ओला की वेबसाइट पर जाइए। जिसका लिंक हमने नीचे दिया हुआ है।

ओला की आधिकारिक वेबसाइट

2) जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक फॉर्म आ जायेगा जिसमें आपको अपनी जानकारी भरनी होगी जैसे, नाम, फ़ोन नंबर, टाइप डिटेल्स ‘सबमिट’ करनी होती है।

3) सबमिट करने के कुछ समय बाद आपको ओला से अपडेट मिलेगा और आपको सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स के साथ ओला ऑफिस पर जाना होगा। जहाँ आपके गाड़ी की वेरिफिकेशन होगी और बाकि का प्रोसेस ऊपर बताये गए ऑफलाइन प्रोसेस की तरह ही होता है।

उबर में कैब लगाने का तरीका

क्या आपको उबर में कार लगानी है?

ओला की तरह ही आप उबर में भी दोनों तरीके से ऑफलाइन और ऑनलाइन गाड़ी लगा सकते हैं।

1) सबसे पहले आपको उबर के रीजनल ऑफिस में अपनी गाड़ी और अपने पूरे डाक्यूमेंट्स के साथ पहुँचना होगा। या आप उबर की ऑफिसियल वेबसाइट से भी रजिस्टर कर सकते हैं। रजिस्टर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

2) रीजनल ऑफिस जाने के बाद स्टाफ आपकी गाड़ी की कंडीशन चेक करेगा और ये देखेगा कि आपकी कार ओला के मानकों (स्टैंडर्ड्स) को पूरा करती है या नहीं।

3) उसके बाद उबर का स्टाफ आपको ओला के दिशा निर्देशों (गाइडलाइन्स) के बारे में समझायेगा और आपका ओला के साथ एक कॉन्ट्रैक्ट साइन होगा।

4) कॉन्ट्रैक्ट साइन होने के बाद आपको एक नया स्मार्टफोन दिया जायेगा जिसमें उबर का पार्टनर ऐप इन्सटाल्ड होगा और इस तरीके से आप उबर में गाड़ी लगा सकते हैं।

ओला या उबर में कैब लगाने से जुड़े सबसे ज़रूरी सवाल और उनके जवाब

1) क्या हम ड्राइवर के बिना ओला या उबर को कार से सकते है?

उत्तर: नहीं, अगर आप ओला या उबर में गाड़ी लगाना चाहते हैं तो ड्राइवर भी आपको अपना ही देना होगा।

2) क्या हम सेकंड हैंड कार को ओला या उबर में लगा सकते हैं?

उत्तर: ये आपकी कार की कंडीशन पर निर्भर करता है। अगर आपकी गाड़ी 5 साल से ज्यादा पुरानी नहीं है और आपकी गाड़ी में एसी वर्किंग कंडीशन में है तो आप ओला या उबर में कार लगा सकते है।

3) ओला या उबर कितना कमीशन चार्ज करती है?

उत्तर: ओला 20% और उबर 15% कमीशन चार्ज करती है।

4) क्या एक ही गाड़ी को ओला और उबर दोनों में अटैच कर सकते हैं?

उत्तर: अगर आपकी खुद की गाड़ी है तो आप ओला और उबर दोनों में अटैच कर सकते हैं।

5) लीज पर ली गयी गाड़ी कंपनी के नाम पर होगी या हमारे नाम पर?

जब तक आपकी इन्सटॉलमेंट पूरी नहीं हो जाती गाड़ी कंपनी के नाम पर ही रहेगी। अगर आप गाड़ी की सारी इन्सटॉलमेंट भर देते हो जिसमें कि करीबन 3-4 साल लग जाते हैं तो कंपनी गाड़ी को आपके नाम पर ट्रांसफर कर देती है। उसके बाद वो गाड़ी आपकी अपनी हो जाती है।


उम्मीद करते हैं कि आपको उबर ओला बिज़नेस प्लान इन्क्वायरी इन हिंदी से जुड़ी सारी जानकारी इस ब्लॉग से मिल गयी होगी। यदि आपको फिर भी कोई सवाल या जवाब है या संदेह है किसी टॉपिक पर तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते है जिसका जवाब हम जरूर देंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here