करियर

प्लम्बर इंजीनियर और प्लम्बर के काम के बारे में जानें हिन्दी में

यह तो आपको पता है ही कि प्लम्बर का काम पानी से सम्बंधित होता है। किसी भी घर या इमारत के बाथरूम या रसोईघर में पानी के पाइप को जोड़ने और उनकी मरम्मत करने वाले को प्लम्बर कहा जाता है। इसके अलावा बड़े-बड़े नहर से शहरों तक पाइप द्वारा पानी लाना या शहरों से गाँव में पानी लेकर जाना ये सभी काम प्लंबिंग इंजीनियरिंग की मदद से किया जाता है। अगर आप भी प्लम्बर इंजीनियर और प्लम्बर का काम के बारे में जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को पढ़ते रहिए।

इस आर्टिकल में आपको जानने को मिलेगा:

प्लम्बर कैसे बनें?

भारत में प्लम्बिंग कोर्स

प्लम्बर का काम

प्लम्बर वेतन

प्लम्बर कैसे बनें?

अगर आप प्लम्बर या प्लम्बर इंजीनियर बनना चाहते हैं या आपकी रूचि प्लम्बिंग में है तो आपको इसके लिए प्लम्बिंग का कोर्स करना जरुरी है। प्लम्बिंग का कोर्स बहुत अच्छा है और इसका आगे भी बहुत स्कोप है। प्लम्बर बनने के लिए आपको डिप्लोमा करना होता है प्लम्बिंग तकनीशियन का।

प्लम्बिंग कोर्स

प्लम्बिंग कोर्स आप 8वीं और 10वीं के बाद कर सकते हैं और ये कोर्स एक साल का होता है। ये कोर्स आपको प्राइवेट और सरकारी आईटीआई संस्थानों में मिलेगा। 

1. आईटीआई प्लम्बर कोर्स/ट्रेड

ये कोर्स आप अपने किसी भी नज़दीकी आईटीआई संस्थान से कर सकते हैं। आईटीआई से प्लम्बर का कोर्स करने के लिए आपको 8वीं पास होना जरुरी है।

  • योग्यता: 8वीं पास
  • कोर्स की अवधि: 1 साल
  • फीस:₹ 2000 से ₹3000

आईटीआई प्लम्बर कोर्स की और अधिक जानकारी के लिए यहाँ जाएं।

आईटीआई क्या है और जानें 10वीं/12वीं के बाद कोर्स की पूरी जानकारी

आईटीआई प्लम्बर अप्रेंटिसशिप

हर साल रेलवे, ओएनजीसी, पीएसयू जैसे एचएएल, बीईएल इत्यादि में अप्रेंटिसशिप की भर्तियाँ निकलती रहती है। आईटीआई से प्लम्बर का कोर्स करने के बाद आप इन सभी जगहों से अप्रेंटिसशिप कर सकते हैं। 

अप्रेंटिसशिप के लिए पंजीकरण

अप्रेंटिसशिप करने के लिए सरकार ने राष्ट्रीय अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग स्कीम (एनएटीएस) शुरू की है जिसके लिए आपको ऑनलाइन पंजीकरण करना होता है।

ऑनलाइन पंजीकरण के लिए ये नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

ऑनलाइन अप्रेंटिसशिप के पंजीकरण के लिए क्लिक करें

अप्रेंटिसशिप ट्रेनिंग के बाद आपको एक सर्टिफिकेट दिया जाता है जो आपको प्लम्बर इंजीनियर और प्लम्बर का काम की तलाश करते समय एक एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट के रूप में काम करता है।

[efb_feed fanpage_url=https://www.facebook.com/joshkoshhindi/ layout=thumbnail image_size=thumbnail type=page post_by=me show_logo=1 show_image=1 show_like_box=1 links_new_tab=1 post_number=0 post_limit=0 cache_unit=60 cache_duration=1]

2. इंडियन प्लम्बिंग स्किल काउंसिल (आईपीएससी)

इंडियन प्लम्बिंग स्किल्स काउंसिल (आईपीएससी) सरकार द्वारा बनायी गयी एक संस्था है जो प्लम्बर के लिए काम करती है। भारत में 90% प्लम्बर प्रशिक्षित नहीं है जिसके कारण प्लम्बर को अच्छी नौकरी नहीं मिलती और काम के अनुसार पैसे भी नहीं मिलते। आईपीएससी ऐसे प्लम्बर को ट्रेनिंग देती है और उन्हें स्किल्ड बनाती है।

देश के अलग-अलग राज्यों में इसके ट्रेनिंग सेंटर है जहां आप ट्रेनिंग ले सकते हैं और सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है। कोर्स की फीस और कोर्स की अवधि हर ट्रेनिंग सेंटर का अलग-अलग है। आप नीचे दिए गए आईपीएससी ट्रेनिंग सेंटर पर कॉल करके इसकी जानकारी ले सकते हैं। 

आईपीएससी ट्रेनिंग सेंटर लिस्ट के लिए यहाँ क्लिक करें

प्लम्बर का काम

प्लम्बर की जॉब

जहाँ पर भी पानी की पाइप लाइन का इस्तेमाल होता है वहाँ पर प्लम्बर की जरूरत हमेशा पड़ती है। एक प्लम्बर प्राइवेट और सरकारी दोनों क्षेत्रों में काम कर सकते है। सरकारी सेक्टर में रेलवे, इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड, इंडियन ऑइल रिग्स एंड कंपनियों, टेलीफोन डिपार्टमेंट, एयरपोर्ट इत्यादि। कुछ ऐसे डिपार्टमेंट है जहाँ आप एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते है।

बिजनेस

प्लम्बर का कोर्स करने के बाद आप हार्डवेयर की दुकान भी खोल सकते है।

अर्बन क्लैप

आप प्लम्बर का कोर्स करने के बाद अर्बन क्लैप में एक प्लम्बर के तौर पे जुड़ सकते हैं।

अर्बन क्लैप में रजिस्टर करने के लिए आप यहाँ क्लिक करें।

प्लम्बर का वेतन

भारत में एक प्लम्बर का वेतन उसके पद और उसके काम के अनुभव के ऊपर निर्भर करता है। वैसे एक प्लम्बर की औसतन सैलरी ₹15000 से ₹20000 महिना होती है। 

आईटीआई इलेक्ट्रिशियन जॉब की पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

इस पोस्ट में हमने आपको प्लम्बर से सम्बंधित लगभग पूरी जानकारी देने का प्रयास किया है। इसे आप ध्यान से पढ़ें। अगर इससे संबन्धित आपके मन में कोई भी सवाल है तो नीचे कमेंट करके पूछ सकते है जिसका जवाब हम जरूर देंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here