इंडियन-एयर-फोर्स-में-पुरुषों-की-भर्ती

इंडियन एयरफोर्स (IAF) में हर साल बहुत सारी भर्तियाँ आती है जिसमें सिर्फ ग्रेज्युएट वालों के लिए भी बहुत पोस्ट निकलती है। तो आइये आज हम इस ब्लॉग में उन्हीं पोस्ट के बारे में जानेंगे।

टेरिटोरियल आर्मी भर्ती में अप्लाई करें

एफकैट भर्ती 2019 के लिए यहाँ क्लिक

जॉइन इंडियन एयरफोर्स

फ्लाइंग ब्रांच में पुरुषों के लिए भर्तियाँ

ग्राउंड ड्यूटी टेक्निकल ब्रांच में पुरुषों के लिए भर्तियाँ

ग्राउंड ड्यूटी नॉन टेक्निकल ब्रांच में पुरुषों के लिए भर्तियाँ


यहाँ नीचे इंडियन एयरफोर्स रिक्रूटमेंट से जुड़े कुछ सवाल और उनके जवाब है जो अक्सर पूछे जाते है

प्र॰ 1 इंडियन एयर फोर्स में 12वीं के बाद के पुरुष ऑफिसर की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते है?

उत्तर- इंडियन एयर फोर्स में सिर्फ ग्रेज्युएट किए हुए उम्मीदवार ही अप्लाई कर सकते है। उनको कम से कम ग्रेज्युएट होना जरूरी है अगर एयर फोर्स में भर्ती होना है तो।

प्र॰ 2 क्या पुरुष एनसीसी (NCC) के जरिये इंडियन एयर फोर्स (IAF) में भर्ती हो सकते है?

उत्तर- हाँ, पुरुष एनसीसी के जरिये एयर फोर्स में भर्ती हो सकते है।

प्र॰ 3 इंडियन एयर फोर्स में पुरुषों को परमानेंट शॉर्ट सर्विस कमीशन मिलता है?

उत्तर- हाँ, इंडियन एयर फोर्स में महिलाओं को शॉर्ट सर्विस कमीशन मिलता है और उसकी अवधि अधिकतम 14 साल होती है।

प्र॰ 4 AFCAT परीक्षा के लिए अप्लाई कैसे कर सकते है?

उत्तर AFCAT परीक्षा के लिए पंजीकरण सिर्फ ऑनलाइन ही किया जा सकता है।


इंडियन एयरफोर्स में पुरुष इन ब्रांच से जॉइन कर सकते है:

  1. फ्लाइंग ब्रांच
  2. ऐरोनोटिकल इंजीनियरिंग ब्रांच (ग्राउंड ड्यूटी टेक्निकल)
  3. ग्राउंड ड्यूटी नॉन टेक्निकल ब्रांच

1. फ्लाइंग ब्रांच (उड़ान शाखा)

इंडियन एयरफोर्स के इस ब्रांच में ऑफिसर्स को एक फाइटर पायलट (लड़ाकू पायलट) या एक हेलीकाप्टर पायलट या एक ट्रांसपोर्ट पायलट के रूप में ट्रैन किया जाता है और विभिन्न पीस एंड वॉर (शान्ति और युद्ध) के समय मिशन का हिस्सा होते है।

सीडीएस (कम्बाइन्ड डिफेंस सर्विस एग्जामिनेशन)

इंडियन एयर फोर्स में सीडीएस की पोस्ट में सिर्फ पुरुष इस मोड के माध्यम से प्रवेश कर सकते हैं और परमानेंट कमीशन पा सकते है। अधिक जानकारी के लिए टेबल देखें।

आयु सीमा दक्षता योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 24 साल

 

– अविवाहित पुरुष

– कद:
157.5 सेंटीमीटर
– किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेज्युएशन किया हुआ होना चाहिए।

 

– 10+2 में गणित और भौतिकी।

– या बीई/बी टेक (चार साल का कोर्स)

– फ़ाइनल ईयर/सेमेस्टर के विद्यार्थी भी अप्लाई करने के योग्य है।

इसमें प्रतिशत कहीं नहीं अटकेंगे।

– लिखित परीक्षा

 

– इंटरव्यू या इंटेलिजेंस टेस्ट या पर्सनेल्टी टेस्ट

– डॉक्युमेंट्स वेरिफिकेशन

– मेडिकल एग्जाम

एससीसी (शॉर्ट सर्विस कमीशन) एंट्री

पुरुष इंडियन एयरफोर्स में पायलट (फ्लाइंग ब्रांच) में जा सकते है। इसके लिए उनको एएफ़सीएटी का एग्जाम क्लियर करना होता है।

– उम्मीदवार के पास वैध Commercial Pilot Licence issued by DGCA (India) होना जरूरी है।
– एसएससी का कार्यकाल: 14 साल (10 साल और 4 साल बढ़ा दिये जाते है।)
– इसमें पुरुषों को परमानेंट कमीशन मिलता है।
– भर्ती का विज्ञापन: जून से दिसंबर
– इसमें पुरुषों को परमानेंट कमीशन मिलता है।

आयु सीमा दक्षता योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 24 साल
(02 जनवरी 1994 और 01 जनवरी 1998)- अविवाहित पुरुष
– कद:
162.5 सेंटीमीटर
– 10+2 में गणित और भौतिकी प्रत्येक में 60% अंक।

 

– लगभग 60% के साथ ग्रेज्युएशन

– इंस्टीट्यूट इंजीनियर या वैमानिकी सोसायटी ऑफ इंडिया के एसोसिएट सदस्यता की खंड ए और बी परीक्षा किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 60% अंकों या समकक्ष के साथ पास की हुई होनी चाहिए।

 

– कम्प्यूटरीकृत पायलट चयन प्रणाली (सीपीएसएस)/पीएबीटी

 

– एएफ़सीएटी

– एएफ़एससी (स्क्रीनिंग, मनोवैज्ञानिक परीक्षण, इंटरव्यू)

एनसीसी स्पेशल एंट्री (पुरुषों और महिलाओं के लिए)

राष्ट्रीय कैडेट कोर के एयर विंग सीनियर डिवीजन ‘सी’ सर्टिफिकेट धारक पुरुष इंडियन एयर फाॅर्स के फ्लाइंग ब्रांच में अप्लाई कर सकते है। पुरुषों को फ्लाई ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट और हेलिकोपटर्स उड़ाने का अवसर दिया जाता है।

उम्मीदवार के पास वैध (valid) Commercial Pilot Licence issued by DGCA (India) का सर्टिफिकेट होना जरूरी है।

– एनसीसी एयर विंग डिवीजन ’C’ सर्टिफिकेट और सर्टिफिकेट वेलीडिटी: दो साल के एडवरटाइज़मेंट के डेट से पहले।

– अधिसूचना तिथि: जून या दिसंबर

– इसमें पुरुषों को परमानेंट कमीशन मिलता है।

आयु सीमा योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 24  साल (02 जनवरी 1994 और 01 जनवरी 1998)

 

– अविवाहित पुरुष

– 10+2 में गणित और भौतिकी प्रत्येक में 60% अंक।

 

– लगभग 60% के साथ ग्रेज्युएशन।

– इंस्टीट्यूट इंजीनियर या वैमानिकी सोसायटी ऑफ इंडिया के एसोसिएट सदस्यता की खंड ए और बी परीक्षा किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 60% अंकों या समकक्ष के साथ पास की हुई होनी चाहिए।

– कम्प्यूटरीकृत पायलट चयन प्रणाली (सीपीएसएस)/पीएबीटी

 

– एएफ़सीएटी

– एएफ़एससी (स्क्रीनिंग, मनोवैज्ञानिक परीक्षण, इंटरव्यू)

2. ग्राउंड ड्यूटी टेक्निकल

वैमानिक अभियांत्रिकी (एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग)

ग्राउंड ड्यूटी (तकनीकी) ब्राँच में ऑफिसर्स को ये सुनिश्चित करना होता है कि वो अपनी टीम को अच्छे से मैनेज करें ताकि भारतीय वायु सेना की हवाई क्षमता बनी रहे।

इस पोस्ट में ऑफिसर्स को इंडियन एयरफोर्स के इक्विपमेंट्स को बहुत ही मैनेज और हैंडल करना होता है। आप नीचे एयर फोर्स योग्यता के बारे में जान सकते है।

– एसएससी कार्यकाल: 14 साल (10 साल और 4 साल बढ़ाए जाते है।)

– इसमें पुरुषों को परमानेंट कमीशन मिलता है।

आयु सीमा दक्षता योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 26 साल
(02 जनवरी 1994 और 01 जनवरी 1999)- अविवाहित पुरुष
– कद: 157.5 सेंटीमीटर – इंजीनियरिंग की डिग्री न्यूनतम 60% के साथ। – एएफ़सीएटी

 

– एएफ़एससी (स्क्रीनिंग, मनोवैज्ञानिक परीक्षण, इंटरव्यू)

उम्मीदवार इसमें दो तरह की टेक्निकल सर्विस में जा सकते है।

एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग (मैकेनिकल)

योग्यता इंजीनियरिंग के क्षेत्र में
मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग / प्रौद्योगिकी में न्यूनतम चार वर्षीय स्नातक / एकीकृत स्नातकोत्तर योग्यता

 

या

एसोसिएट मेम्बरशिप ऑफ इन्स्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर से सेक्शन ए या बी की परीक्षा की पास की हुई होनी चाहिए।

या

एरोनॉटिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया से सेक्शन ए या बी की परीक्षा की पास की हुई होनी चाहिए।

निम्नलिखित विषयों में न्यूनतम 60% अंक या समकक्ष के साथ

 

– ऐरोस्पेस इंजीनियरिंग
– एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
– ऐरक्राफ्ट मैंटेन्स इंजीनियरिंग
– मैकेनिकल इंजीनियरिंग
– मैकेनिकल इंजीनियरिंग और ऑटोमेशन
– मैकेनिकल इंजीनियरिंग (प्रॉडक्शन)
– मैकेनिकल इंजीनियरिंग (रिपेयर और मैंटेन्स)
– मैकेट्रोनिक्स
– इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग

एरोनॉटिकल इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल)

योग्यता इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कोर्स
मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग / प्रौद्योगिकी में न्यूनतम चार वर्षीय स्नातक / पोस्ट ग्रेज्युएशन।

 

या

एसोसिएट मेम्बरशिप ऑफ इन्स्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियर से सेक्शन ए या बी की परीक्षा की पास की हुई होनी चाहिए।

या

ऐरोनोटिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया से सेक्शन ए या बी की परीक्षा की पास की हुई होनी चाहिए।

या

ग्रेजुएट मेम्बरशिप एग्जामिनेशन ऑफ़ द इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्यूनिकेशन इंजीनियर बाय एक्च्युअल स्टडी।

निम्नलिखित विषयों में न्यूनतम 60% अंक या समकक्ष के साथ

 

– कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग
– कंप्यूटर इंजीनियरिंग / टेक्नॉलॉजी
– कंप्यूटर इंजीनियरिंग और एप्लिकेशन
– कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग टेक्नॉलॉजी
– इलेक्ट्रिकल और कंप्यूटर इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रिकल और इलेक्स्ट्रोनिक्स इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग / टेक्नॉलॉजी
– इलेक्ट्रॉनिक्स साइंस और इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रॉनिक्स
– इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर साइंस
– इलेक्ट्रॉनिक्स एंड / या टेलीकम्यूनिकेशन
– इंजीनियरिंग (माइक्रोवेव)
– इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर में इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रॉनिक्स कम्यूनिकेशन और इन्सट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग
– इलेक्ट्रॉनिक्स इन्स्ट्रूमेंट्स और कंट्रोल
– इलेक्ट्रॉनिक्स इन्स्ट्रूमेंट्स और कंट्रोल इंजीनियरिंग
– इन्सट्रूमेंटेशन और कंट्रोल इंजीनियरिंग
– इन्स्ट्रूमेंट्स और कंट्रोल इंजीनियरिंग
– इन्फोर्मेशन टेक्नॉलॉजी

3. ग्राउंड ड्यूटी (नॉन-टेकनिकल) ब्रांच

एएफ़एससी: देहरादून, मैसूर, गांधीनगर, वाराणसी अथवा कंचारपाड़ा

इंडियन एयरफोर्स में ग्राउंड स्टाफ ब्रांच में पुरुषों की भर्ती करती है इसमें एयर फोर्स को अपनी डे-टू-डे एक्टिविटीज को मैनेज करने के लिए ग्राउंड स्टाफ की बहुत ज़रूरत पड़ती है जिसमें कैंडिडेट्स को रिक्रूट किया जाता है।

  1. ADMINISTRATION – एयर ट्रैफिक कंट्रोलर, फाइटर कंट्रोलर
  2. ACCOUNTS, – फाईनाइनसियल मैनेजमेंट (फंडस) को कुशलता के साथ हैंडल करना होता है।
  3. LOGISTICS – एयर फोर्स रिसोर्स का मटेरियल मैनेजमेंट करना। इसमें इंवेंटरीज़ का सुपरविजन, इक्युप्मेंट का प्रोसरमेंट प्रोसेस कुशलता के साथ करना होता है।
  4. EDUCATION 
  5. METEOROLOGY  – मीटरोलोजी ब्रांच ऑफिसर को लेटेस्ट सेटेलाइट इमेजनरी, इक्युप्मेंट को मोनिटर्निंग करना इत्यादि… जैसे जिम्मेदारियों को हैंडल करना होता है।
  • AFCAT ENTRIES : ADMINISTRATION, ACCOUNTS, LOGISTICS, EDUCATION 

– एसएससी कार्यकाल: 14 साल (10 साल और 4 साल बढ़ाए जाते है।)
– इसमें पुरुषों को परमानेंट कमीशन मिलता है।

आयु सीमा दक्षता योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 26 साल
(02 जनवरी 1993 और 01 जनवरी 1998)- अविवाहित पुरुष जिनकी आयु 25 साल के बीच होनी चाहिए।
– कद: 152 सेंटीमीटर – एडमिनिस्ट्रेशन, अकाउंट, लोजीस्टिक
न्यूनतम 60% के साथ ग्रेज्युएशन– शिक्षा: 50% के साथ पोस्ट ग्रेज्युएशन, 60% के साथ ग्रेज्युएशन
– एएफ़सीएटी

 

– एएफ़एससी (स्क्रीनिंग, मनोवैज्ञानिक परीक्षण, इंटरव्यू)

नॉन-एएफ़सीएटी एंट्री: मीटरोलोजी 

आयु सीमा दक्षता योग्यता चयन प्रक्रिया
– 20 साल – 27 साल
(02 जनवरी 1994 और 01 जनवरी 1998)– अविवाहित पुरुष
– कद: 152 सेंटीमीटर – विज्ञान स्ट्रीम / गणित / सांख्यिकी / भूगोल / सीएस / ईवीएस / भौतिकी / भू-भौतिकी आदि में 50% के साथ स्नातकोत्तर।

 

– गणित और फिजिक्स में 55% के साथ ग्रेज्युएशन

– शॉर्टलिस्टिंग

 

– एसएसबी इंटरव्यू (5 दिन)

तो यदि आप भी इंडियन एयर फोर्स (भारतीय वायु सेना) में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहते है तो इन पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते है जब भर्ती निकलती है। खैर, अगर आपको कोई भी बात समझ नहीं आई है तो कृपया हमें कमेन्ट करें। हम आपको जवाब देने का पूरा प्रयास करेंगे।

जन्म से ही क्रिकेट का दीवाना हूँ लेकिन क्रिकेटर बन नहीं सका और अब विकिपीडियन बनकर खिलाड़ियों पर लिखना शौक बना दिया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here