Chat with us, powered by LiveChat

देश सेवा के लिए UNIFORM पहनना ज़रूरी नही

Delhi |August 2018

Hutansh Verma

Artist, Teacher

Hutansh Verma

Artist, Teacher

बारे में:

कई बार ये ख़्याल हमारे ज़ेहन में आता है कि आख़िर वो कौन सी शक्ति है, जो आम लोगों में आ जाती है और वो अपना घर-परिवार छोड़ कर, देश की सुरक्षा के लिए खड़े हो जाते हैं| सैनिकों के बारे में सोच कर हर हिन्दुस्तानी का सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है, पर कहीं न कहीं उन वीरों के लिए हम ज़्यादा कुछ नहीं कर पाते | शहीदों के परिवारों के लिए कुछ करने के लिए दिल्ली के artist, Hutansh Verma अपने कलम की ताकत से उन शहीदों की शहादत में चार चाँद लगा रहे हैं| Hutansh Verma, शहीदों के Portrait बनाकर ख़ुद उनके परिवारों तक पहुंचाते हैं| Hutansh Verma, एक artist हैं, और दिल्ली के एक स्कूल में art teacher हैं| Portraits of Patriots’ नाम से मुहीम चलाने वाले Hutansh Verma, kargil war heroes, शहीदों के सजीव Portraits बनाते हैं और नि:शुल्क उनके परिवारों तक पहुंचाते हैं| हुतांश एक middle class परिवार से हैं, उन्होंने परिवार की सहायता करने के लिए 17-18 साल से ही काम करना शुरू किया. पेंटिंग में रूचि होने के बावजूद उन्हें painting करने के लिए ज़ादा वक़्त नहीं मिलता था| 19 साल की उम्र में, परिवार को न संभाल पाने का दर्द और बुरी तरह टूट चुके Hutansh ने खुदखुशी करने की कोशिश की पर अपने आप को संभाला और अपनइ जीवन में उच्च बेहतर करने का ठाना|

अपने पिताजी की बात मानते हुए Hutansh ने शहीदों की portraits बनाना शुरू किया| और उन्हें खुदसे शहीदों के परिवार तक पहुँचाना शुरू किया| अब तक हुतांश ने देशभर में 57 Portraits पहुंचाए हैं| Hutansh एक कुशल artist हैं, उन्होंने न केवल अपने talent को समझा और अपने talent का उचित इस्तेमाल किया, इनका शहीदों को श्रद्धांजलि देने का अनोखा तरीका सबसे हटकर है| हुतांश ने एक छोटी सी पहल की. पहले वो ख़ुद शहीदों के परिवारों से संपर्क करते थे, अब उनके काम को देख कर Indian Army व परिवार ख़ुद उनसे संपर्क करते हैं| यही है बदलाव| निश्छल मन से किया हुआ काम ही आत्म-संतुष्टि देता है| हुतांश ने अपनी ज़िन्दगी में कई ठोकरों के बाद भी उसे एक खूबसूरत और एक सफल मोड़ दिया|